whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

छत्तीसगढ़ में चुनाव आयोग की सराहनीय पहल, 7 मोबाइल ऐप के जरिए वोटर्स को करेंगे जागरूक, जानें क्या है प्लान?

Chhattisgarh Election Commission 7 mobile Apps: छत्तीसगढ़ में लोकसभा चुनाव 2024 में मतदाताओं की भागीदारी बढ़ाने देश की निर्वाचन आयोग टीम ने इंफॉर्मेशन की नई टेक्नोलॉजी की मदद ले रही है। इसके तहत भारत निर्वाचन आयोग द्वारा कुल 7 मोबाइल एप्स को डेवलप किया गया है।
11:58 AM Apr 02, 2024 IST | Pooja Mishra
छत्तीसगढ़ में चुनाव आयोग की सराहनीय पहल  7 मोबाइल ऐप के जरिए वोटर्स को करेंगे जागरूक  जानें क्या है प्लान
छत्तीसगढ़ लोकसभा चुनाव 2024

Chhattisgarh Election Commission 7 mobile Apps: छत्तीसगढ़ में लोकसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक पार्टियां जहां जी-जान से प्रचार प्रसार में जुटी हुई हैं। वहीं प्रदेश की निर्वाचन आयोग टीम भी चुनावी प्रक्रिया के तहत अपने काम को पूरा कर रही है। चुनाव के दौरान इंफॉर्मेशन की नई टेक्नोलॉजी एक बड़ी भूमिका निभा रही है। इन टेक्नोलॉजी का सबसे ज्यादा इस्तेमाल चुनाव में मतदाताओं की भागीदारी बढ़ाने में किया जा रहा है। भारत निर्वाचन आयोग की तरफ से इंफॉर्मेशन की नई टेक्नोलॉजी के उपयोग से चुनाव को और ज्यादा सुगम, निष्पक्ष और समावेशी बनाया जा रहा है।

देश-दुन‍िया की पल-पल की अपडेट News24 के लाइव ब्‍लॉग पर

भारत निर्वाचन आयोग की कोशिश 

भारत निर्वाचन आयोग का कहना है कि लोकतंत्र की मजबूती के लिए देश के हर एक नागरिक का जागरूक और सजग रहना बहुत जरूरी है। निर्वाचन आयोग की तरफ से नागरिकों के बीच जागरूकता बढ़ाने के लिए मोबाइल एप्स को डेवलप किया गया है और उन्हें निर्वाचन प्रक्रिया का हिस्सा बनाया गया है। अब तक आयोग द्वारा कुल 7 मोबाइल एप्स को डेवलप किया गया है। इन सभी मोबाइल एप्स के जरिए मतदाताओं की निर्वाचन प्रक्रियाओं में सहभागिता और सुविधा दोनों बढ़ी है।

यह भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ के कांग्रेस अध्यक्ष के ट्वीट पर भड़के डिप्टी सीएम, बोले- उन्हें ऐसा कहने का अधिकार नहीं

ये है वो 7 मोबाइल एप्स

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा विकसित की गई इन ऐप्स की सूची में वोटर हेल्पलाइन ऐप, सी-विजिल ऐप, सक्षम मोबाइल ऐप, सुविधा कैंडिडेट ऐप, वोटर टर्न आउट ऐप, नो यूअर कैंडिडेट (केवायसी) ऐप और इलेक्शन सीज़र मैनेजमेंट सिस्टम (ESMS) ऐप शामिल हैं। इन सभी ऐप के इस्तेमाल से नागरिक की चुनाव में सहभागिता और सुविधा दोनों बढ़ रही हैं। बात करें अगर सिर्फ वोटर हेल्पलाइन ऐप की तो इस ऐप की मदद से मतदाता अपना वोटर आईडी नंबर डालकर बड़ी ही आसानी से अपने विधानसभा, पोलिंग बूथ और मतदाता सूची में सरल नंबर पता कर सकते हैं। इसके अलावा भी और कई तरह की सुविधाएं इस ऐप पर मिल रही हैं।

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो