whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

JEE Mains 2024 : एग्‍जाम में टॉयलेट ब्रेक भी भारी! फ‍िर एंट्री के ल‍िए होगी बायोमेट्र‍िक और तलाशी

JEE Mains 2024 Entrance Exam Rule : जेईई मेंस 2024 एग्जाम को लेकर सख्त गाइडलाइन जारी गई है। अगर आप भी इस परीक्षा में बैठने वाले हैं तो यह खबर जरूरी पढ़ लें।
08:50 AM Jan 03, 2024 IST | News24 हिंदी
jee mains 2024   एग्‍जाम में टॉयलेट ब्रेक भी भारी  फ‍िर एंट्री के ल‍िए होगी बायोमेट्र‍िक और तलाशी

JEE Mains 2024 Entrance Exam Rule : देश के टॉप इंजीरियरिंग कॉलेजों में एडमिशन लेने के लिए इसी महीने एंट्रेंस एग्जाम (जेईई मेन 2024) होने वाले हैं। दो चरणों में जेईई मेंस की परीक्षाएं होंगी। पहला चरण 24 जनवरी से 1 फरवरी और दूसरा चरण 1 अप्रैल से 15 अप्रैल 2024 तक होगा। इसे लेकर परीक्षार्थी तैयारी में जुटे हुए हैं। इसे लेकर उम्मीदवारों के लिए कुछ दिशा-निर्देश भी जारी किए हैं।

इस बार जेईई मेन के एग्जाम को लेकर कुछ सख्त नियम बनाए गए हैं। एग्जाम सेंटरों में प्रवेश से पहले अभ्यर्थियों की बॉयोमेट्रिक उपस्थिति होगी। अगर एग्जाम के बीच कोई उम्मीदवार टॉयलेट करने के लिए उठा तो उसकी फिर से बॉयोमेट्रिक जांच होगी। परीक्षा में नकल रोकने के लिए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने यह गाइडलाइन जारी की है। साथ ही इस प्रक्रिया से सेंटरों के शिक्षकों को भी गुजरना पड़ेगा। इस साल पहली बार छत्तीसगढ़ के बस्तर और मेघालय के तुरा में भी जेईई मेन 2024 के लिए सेंटर बनाए गए हैं।

यह भी पढ़ें :JEE Mains Result 2023 Toppers List 

जेईई मेन 2024 के लिए आवेदनों का रिकार्ड टूटा

जेईई मेन 2024 की परीक्षा के लिए इस बार सबसे ज्यादा आवेदन प्राप्त किए गए। पुराने सारे रिकार्ड टूट गए हैं। पहली बार आवेदनों की संख्या 10 लाख के पार पहुंची है। 8 दिसंबर 2023 तक 12.3 लाख उम्मीदवारों ने जेईई मेन के लिए फॉर्म भरे थे। साथ ही दूसरे चरण में अप्रैल महीने में होने वाले जेईई मेन एग्जाम में अभ्यर्थियों की संख्या और भी बढ़ने की उम्मीद है। एनटीए के अधिकारियों का कहना है कि इस परीक्षा में नकलचियों को रोकने और मेहनती उम्मीदवारों को मौका मिले, इसके लिए सख्त नियम बनाए गए हैं।

सेंटरों पर सुरक्षा के रहेंगे पर्याप्त इंतजाम

एनटीए के महानिदेशक सुबोध कुमार सिंह का कहना है कि जेईई मेन एग्जाम से पहले केंद्रों और सेंटरों पर सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए जा रहे हैं। परीक्षा केंद्रों में एंट्री लेने से पहले अभ्यर्थियों की तलाशी और बॉयोमेट्रिक जांच होगी। टॉयलेट ब्रेक के बाद फिर प्रवेश के लिए छात्र-छात्राओं को दोबारा बॉयोमेट्रिक उपस्थिति दर्ज करानी पड़ेगी। ये नियम सिर्फ उम्मीदवारों के लिए नहीं हैं, बल्कि सेंटर में उपस्थित अधिकारी, टीचर और अन्य स्टाफ की भी बायोमेट्रिक जांच होगी।

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो