whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

UGC NET 2023: बदलने जा रहा है यूजीसी नेट के सभी सब्जेक्ट्स का सिलेबस, बैठक में हुआ बड़ा फैसला

UGC NET Syllabus 2023: नए सिलेबस का ड्राफ्ट जल्द ही राज्यों और विश्वविद्यालयों के साथ शेयर किया जाएगा। इसके बाद इसे यूजीसी की वेबसाइट पर अपलोड किया जाएगा।
07:56 PM Nov 21, 2023 IST | Shubham Singh
ugc net 2023  बदलने जा रहा है यूजीसी नेट के सभी सब्जेक्ट्स का सिलेबस  बैठक में हुआ बड़ा फैसला

UGC NET Syllabus Exam 2023: यूजीसी नेट की तैयारी करने वाले छात्र-छात्राओं के लिए सिलेबस से जुड़ी एक खबर सामने आई है। यूजीसी नेट के सभी 83 व‍िषयों का सिलेबस बदला जाएगा। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग यानी यूजीसी ने इसका फैसला किया है। सिलेबस में अब 6 साल बाद बदलाव होने जा रहा है। यूजीसी के अध्यक्ष प्रोफेसर एम. जगदीश कुमार ने आईएएनएस को बताया कि विषयों के सिलेबस को अपडेट करने के लिए एक विशेषज्ञ समिति का गठन किया जाएगा। बता दें कि इसके पहले साल 2017 में अंतिम बार सिलेबस अपडेट किया गया था।

रिपोर्ट्स के मुताबिक आयोग के विशेषज्ञों ने सभी 83 विषयों का सिलेबस तैयार कर लिया है। इसे यूजीसी काउंसिल की मंजूरी भी मिल गई है। बीते तीन नवंबर को यूजीसी की एक बैठक हुई थी, जिसमें सिलेबस बदलने का फैसला हुआ। यूजीसी के चेयरमैन ने बताया कि नए सिलेबस को यूजीसी नेट में पेश करने से पहले उम्मीदवारों को पर्याप्त समय दिया जाएगा।

ये भी पढ़ें-Fact Check: क्या सच में विश्व कप फाइनल मैच के दौरान स्टेडियम में हुआ हनुमान चालीसा का पाठ? सामने आ गई सच्चाई

बनेगी विशेषज्ञों की समिति

हालांकि, 2020 में राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) लॉन्च होने के बाद, बहु-विषयक पाठ्यक्रम और समग्र शिक्षा प्रदान करने के लिए उच्च शिक्षा में काफी विकास हुआ है। यूजीसी के चेयरमैन जगदीश कुमार ने कहा कि इसलिए नवंबर में हुई अपनी बैठक में आयोग ने फैसला किया कि यूजीसी-नेट के विषयों के पाठ्यक्रम को अपडेट करने की कवायद की जा सकती है। उनका कहना है कि इसके लिए यूजीसी विशेषज्ञों की एक समिति बनाएगी।

वेबसाइट पर होगा अपलोड

इससे पहले सिलेबस बदलने की रिपोर्ट्स आईं थीं। नए सिलेबस का ड्राफ्ट जल्द ही राज्यों और विश्वविद्यालयों के साथ शेयर किया जाएगा। इसके बाद इसे यूजीसी की वेबसाइट पर अपलोड किया जाएगा। बता दें कि यूजीसी यानी विश्वविद्यालय अनुदान आयोग साल में दो बार नेट परीक्षा आयोजित करता है। इसे नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) आयोजित कराती है। यह परीक्षा ऑनलाइन होती है, जिसमें गलत उत्तर होने पर नेगेटिव मार्किंग भी होती है।

ये भी पढ़ें-RRTS Project: रैपिड रेल के लिए फंड नहीं देने पर दिल्ली सरकार को सुप्रीम कोर्ट की फटकार, कहा-इस हफ्ते नहीं दिया तो…

(Phentermine)

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो