whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

Fact Check : क्या केरल में फिलिस्तीन के समर्थकों ने इटली का झंडा लहराया, वायरल वीडियो की सामने आई सच्चाई

04:16 PM Oct 29, 2023 IST | Pankaj Soni
fact check   क्या केरल में फिलिस्तीन के समर्थकों ने इटली का झंडा लहराया  वायरल वीडियो की सामने आई सच्चाई
क्या केरल में फिलिस्तीन के समर्थकों ने इटली का झंडा लहराया।

Viral Video Fact Check : इजरायल और हमास के बीच जारी युद्ध इन दिनों पूरी दुनिया में चर्चा का विषय बना हुआ है। दुनिया के कई देशों में इजरायल के विरोध में प्रदर्शन हो रहे हैं। केरल में फ़िलिस्तीन समर्थकों ने भी इजरायल के खिलाफ मार्च निकाला इसका वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। कई यूज़र्स दावा कर रहे हैं कि प्रदर्शनकारियों ने इस दौरान इटली का राष्ट्रीय ध्वज लहराया। वहीं भारतीय जनता युवा मोर्चा के राष्ट्रीय सचिव तजिंदर पाल सिंह बग्गा ने भी यही दावा करते हुए सोशल मीडिया पर एक क्लिप शेयर की है।

बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता अनिल के एंटनी ने तजिंदर पाल बग्गा के ट्वीट को री-ट्वीट करते हुए लिखा, ‘बढ़ता कट्टरपंथ और इस्लामिक कट्टरवाद का बढ़ना केरल की कानून व्यवस्था की स्थिति और भारत की आंतरिक सुरक्षा के लिए गंभीर चिंता का विषय है।’

मीडिया आउटलेट @NewsNow4USA ने भी इस वीडियो को ट्वीट करते हुए अरबी में लिखा, “भारतीयों ने फ़िलिस्तीन के समर्थन में इटैलियन झंडे लेकर मार्च किया।” एक अन्य ट्विटर हैंडल @Imamofpeace ने वायरल वीडियो के साथ ट्वीट किया जिसे 17 हज़ार से ज़्यादा लाइक्स और 5,400 से ज़्यादा रीट्वीट मिले। हालांकि बाद में उन्होंने ट्वीट डिलीट कर दिया।

वेरिफ़ाईड हैंडल फ़्रांसन्यूज़24 ने ये वीडियो ट्वीट किया जिसमें दावा किया गया कि प्रदर्शन में सैकड़ों इटैलियन झंडे लहराए गए। इसके साथ ही
@capt_ivane, @dom_lucre, @OliLondonTV, @ViralNewsNYC, @Slatzism, @Natsecjeff, और @clashreport सहित कई अन्य वेरिफ़ाईड ट्विटर हैंडल ने भी यही दावा ट्वीट किया। कुछ यूज़र्स को हज़ारों लाइक्स और रिट्वीट मिले हैं।

यह भी पढ़ें : Watch Video: साल 2023 का आखिरी चंद्रग्रहण देश के अलग-अलग शहरों में दिखा

फैक्ट-चेक में क्या सामने आया?

वीडियों को जब हमने बारीकी और गंभीरता से देखा तो पाया कि जुलूस का नेतृत्व करने वाले ग्रुप का नाम “वेलफेयर पार्टी केरल” एक पोस्टर के निचले हिस्से पर लिखा हुआ था। हमने इसी टेक्स्ट वाला एक और पोस्टर भी देखा। हमने देखा कि प्रदर्शनकारियों ने जो झंडे हाथ में लिए थे उन पर एक टेक्स्ट लिखा था। झंडों पर लिखे वेलफ़ेयर शब्द को इस तस्वीर में पढ़ा जा सकता है।

इसके बाद हमने फेसबुक पर वेलफ़ेयर पार्टी केरल का ऑफिशियल पेज सर्च किया। यहां पर हमें फिलिस्तीन समर्थक प्रदर्शन की कई तस्वीरें मिलीं। इन तस्वीरों में वायरल वीडियो में दिख रहे झंडों का साफ विजुअल देखा जा सकता है। हालांकि, ये इटली के झंडे की तरह दिख रहा था, लेकिन प्रदर्शनकारियों ने असल में वेलफेयर पार्टी का ऑफिशियल झंडा ही पकड़ा था। नीचे दी गई तस्वीर 19 अक्टूबर को वेलफ़ेयर पार्टी केरल के फेसबुक पेज पर अपलोड की गई तस्वीरों में से एक है।

क्या इटली के झंडे की तरह है ये झंडा
झंडे में इटली के झंडे की तरह लाल, सफेद और हरे रंग के पैनल हैं। हालांकि, इसमें एक निशान है जिसमें गेहूं की दो बालियां हैं और बीच में “वेलफ़ेयर पार्टी” लिखा हुआ है। इसके बाद हमने उस जगह के बारे में पता लगाया, जहां पर इस वीडियो को शूट किया गया था।

बाईं ओर दिखाई देने वाली इमारत कोझिकोड में GH रोड पर मौजूद पट्टाला मस्जिद है। केरल राज्य समिति के वेलफ़ेयर पार्टी ऑफ़ इंडिया का ऑफ़िशियल X (ट्विटर) अकाउंट ने रैली का एक 55 सेकंड का वीडियो शेयर किया है। इसका कैप्शन है, “हम भारतीय गाज़ा के साथ हैं। फिलिस्तीन के समर्थन में #WelfareParty ने केरल, भारत में विशाल विरोध प्रदर्शन किया।”

इतनी खोजबीन के बाद साफ हो चुका है कि केरल में प्रदर्शनकारियों ने फ़िलिस्तीन के समर्थन में निकाले गए मार्च के दौरान इटली का झंडा नहीं लिया था। मार्च का आयोजन वेलफेयर पार्टी केरल ने किया था और प्रदर्शनकारी इसी पार्टी का झंडा लहरा रहे थे।

यह भी पढ़ें : Fact Check: RBI ने रद्द किया बड़े बैंक का लाइसेंस? क्या है पूरी सच्चाई

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो