whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

गुरपतवंत पन्नू के खिलाफ अहमदाबाद में FIR, वर्ल्ड कप को बताया था 'टेरर कप'

02:00 PM Sep 29, 2023 IST | News24 हिंदी
गुरपतवंत पन्नू के खिलाफ अहमदाबाद में fir  वर्ल्ड कप को बताया था  टेरर कप

भूपेंद्र सिंह ठाकुर, अहमदाबाद: खालिस्तानी आतंकवादी गुरपतवंत पन्नू के खिलाफ अहमदाबाद साइबर सेल में एफआईआर दर्ज की गई है। पन्नू ने अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेले जाने वाले भारत-पाकिस्तान मैच में गड़बड़ी फैलाने की धमकी दी थी। पन्नू ने प्री-रिकॉर्ड मैसेज भेजकर कहा था कि ये क्रिकेट वर्ल्ड कप नहीं, वर्ल्ड टेरर कप की शुरुआत होगी। पीएम मोदी आप शहीद निज्जर की हत्या के लिए जिम्मेदार हैं और सिख फॉर जस्टिस इसका बदला लेगा। अहमदाबाद में होने वाले वर्ल्ड कप का मैच हमारा टारगेट होगा। पन्नू ने इससे पहले भी 15 अगस्त और जी20 समिट को लेकर धमकियां दी थी, तब दिल्ली पुलिस ने कुछ लोगों को अरेस्ट किया था।

अहमदाबाद पुलिस की साइबर सेल ने पन्नू के खिलाफ मैच में बाधा डालने की धमकी देने को लेकर एफआईआर दर्ज की है। साइबर सेल के अधिकारी जीतेन्द्र यादव के मुताबिक एफआईआर में धारा-121, 153A, 153 B(1)(C), 505 (1)b के साथ आईटीएक्ट की धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। पन्नू को भारत सरकार आतंकवादी घोषित कर चुकी है। इससे पहले एनआईए ने चंडीगढ़ में खालिस्तानी आतंकी गुरपतवंत सिंह पन्नू की संपत्ति जब्त की थी। कनाडा में रहने वाले हिंदुओं को खुलेआम देश छोड़ने की धमकी देने के बाद एनआईए ने कार्रवाई की थी।

साइबर सेल के अधिकारी जीतेन्द्र यादव ने बताया कि फिलहाल मैच को लेकर सुरक्षा के इंतजाम पूरे हैं। लोगों को डरने की जरूरत नहीं है। अहमदाबाद में स्थित विश्व के सबसे बड़े स्टेडियम में वर्ल्ड कप के कई मैच खेले जाने हैं। जिसमें सबसे अहम भारत पाकिस्तान का मैच है।

यह भी पढ़ें-अकाली नेता की होशियारपुर में हत्या, 2 बाइक सवारों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसा उतारा मौत के घाट

आरोपी के खिलाफ भारत में 16 केस

पन्नू लंबे समय से पंजाब को भारत से अलग करने की मांग करता रहा है। उसको 7 जुलाई 2022 को टेरेरिस्ट घोषित किया गया था। वह भारत को कई टुकड़ों में देखना चाहता है। मुस्लिमों को बरगलाकर भी उसने डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ उर्दुस्तान का सपना देखा है। वहीं, रेडिकालाइज कर कश्मीर को भारत से अलग करने के इंपॉसिबल सपने को देख रहा है। पंजाब में UAPA के अलावा उसके खिलाफ 16 केस दर्ज हैं।

पन्नू इससे पहले इंडिया गेट पर खालिस्तानी झंडा फहराने को लेकर इनाम की घोषणा कर जहर उगल चुका है। पन्नू ने 2.5 मिलियन यूएस डॉलर देने का एलान किया था। उसने ये भी कहा था कि 15 अगस्त 2021 को जो व्यक्ति लाल किले पर तिरंगा नहीं फहराने देगा, उसको 1 मिलियन यूएस देगा। कई बार वह पंजाब, दिल्ली और उत्तराखंड के अलावा हिमाचल प्रदेश और हरियाणा में भी वारदात की कोशिश कर चुका है।

यह भी पढ़ें-पाकिस्तान में आतंकी हमला, ईद-ए-मिलाद के जुलूस में विस्फोट कर 34 लोगों को उड़ाया

अमृतसर का रहने वाला है पन्नू

पन्नू इससे पहले कनाडा में रह रहे हिंदुओं को खदेड़ने की बात भी कह चुका है। कई बार भारत की ओर से उसके खिलाफ सबूत दिए गए हैं, लेकिन कनाडा ने कोई कार्रवाई नहीं की है। बताया जा रहा है कि उसको कनाडा में अब सिक्योरिटी भी मिल चुकी है। भारत में गुरपतवंत सिंह पन्नू की कई संपत्तियों की सील कर दिया गया है। उसकी करोड़ों की संपत्ति बताई गई है। 2020 में भी उसकी करोड़ों की संपत्ति को अटैच किया गया था।

बता दें कि गुरपतवंत पन्नू अमृतसर के खानकोट का निवासी है, जो पंजाब यूनिवर्सिटी से लॉ कर चुका है। जिसके बाद वह विदेश चला गया था। बताया जा रहा है कि इसके बाद उसने पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई से हाथ मिलाकर भारत विरोधी गतिविधियां शुरू कीं। पन्नू के पिता का नाम महिंदर सिंह है, जो पंजाब कृषि विपणन बोर्ड के कर्मी रहे हैं। उस पर 2019 में बैन लगाया गया था। जिसके बाद से वह कनाडा में है।

(https://www.madisonavenuemalls.com/)

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो