whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

कौन है गैंगस्टर शाकिर, 12 साल पहले पुलिस वाले को मारकर हुआ था फरार, अब मिला तो फिर की पुलिसवालों पर फायरिंग

Encounter Gangster Shakir: साल 2012 में शाकिर ने दिल्ली पुलिस के हवलदार की हत्या की थी। जिसके बाद अब तक उस पर 18 से ज्यादा संगीन धाराओं में मामले दर्ज हैं। वह हरियाणा के तावडू का रहने वाला है और उसके दिल्ली, यूपी समेत आसपास के राज्यों के आपराधिक गिरोह से संपर्क हैं। यही वजह है कि वह 12 साल से पुलिस को चकमा देकर फरार चल रहा था।
04:08 PM Feb 27, 2024 IST | Amit Kasana
कौन है गैंगस्टर शाकिर  12 साल पहले पुलिस वाले को मारकर हुआ था फरार  अब मिला तो फिर की पुलिसवालों पर फायरिंग
अस्पताल में भर्ती शाकिर

Encounter Gangster Shakir: एक समय था जब वर्दी पहने पुलिसकर्मियों को देख बदमाश घरों में छिप जाया करते थे। लेकिन अब बदमाशों के हौसले बुलंद हैं, वह पुलिसकर्मियों पर हमला करने से भी गुरेज नहीं करते। एक ऐसे ही मामले में नूंह पुलिस ने मंगलवार को एनकाउंटर के बाद गैंगस्टर शाकिर को गिरफ्तार किया है। उसे 12 साल से दिल्ली और हरियाणा दो राज्यों की पुलिस तलाश कर रही थी। उस पर साल 2012 में दिल्ली पुलिस के हवलदार यशपाल की हत्या समेत अन्य संगीन धाराओं में करीब 18 मुकदमे दर्ज हैं।

पुलिस पर हमला करने के लिए बदनाम

जानकारी के अनुसार हरियाणा की नूंह पुलिस को सूचना मिली कि शाकिर जिले में आने वाला है। पुलिस ने घेराबंदी की और बाइक सवार शाकिर को रुकने का इशारा किया। पुलिस को देख शाकिर भागने लगा और पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। जब चेतावनी देने के बाद वह नहीं रुका तो पुलिस ने भी उस पर जवाबी फायरिंग की। जिसमें उसे दो गोलियां लगी। किसी तरह पुलिस टीम ने उसे काबू किया। घायलावस्था में उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत स्थिर है।

चाहता है लॉरेंस बिश्नोई जैसा बनना  

बता दें हरियाणा के बहादुरगढ़ में इनेलो विधायक नफे सिंह राठी की हत्या के बाद राज्य में पुलिस रेड अलर्ट पर है। हर जिले में कुख्यात बदमाशों पर नकेल कसी जा रही है। शाकिर हत्या, वसूली समेत अन्य कई मामलों में आरोपी है। पुलिसकर्मियों पर हमला करने में भी वह पीछे नहीं हटता है। पुलिस के अनुसार शाकिर कुख्यात बदमाश है, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश समेत अन्य राज्यों में उसके अन्य आपराधिक गिरोह से संपर्क हैं। वह अपराध की दुनिया में लॉरेंस बिश्नोई से भी बड़ा नाम करना चाहता है।

12 सालों में किसकी मदद से छिपा रहा 

अब पुलिस शाकिर से यह पता लगा रही है कि पिछले 12 सालों में पुलिस से छिपने में उसकी किसने मदद की। वह अलग-अलग राज्यों में किन कुख्यात गिरोहों से जुड़ा है और उसे वारदात के लिए हथियार कौन लोग उपलब्ध करवाते हैं। पुलिस उसकी निशानदेही पर हरियाणा में दबिश दे रही है।

ये भी पढ़ें: कौनसी जमीन! क्या है विवाद, किस वजह से की गई नफे सिंह राठी की हत्या?

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो