whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

अगर बहुमत नहीं म‍िला तो क्‍या होगा BJP का प्‍लान-बी? अम‍ित शाह ने तोड़ी चुप्‍पी, केजरीवाल पर भी साधा न‍िशाना

Amit Shah in Lok Sabha Election 2024: लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने 'अबकी बार 400 पार' का नारा दिया है। लेकिन अगर बीजेपी को आम चुनाव में बहुमत नहीं मिला तो पार्टी का अगला कदम क्या होगा? इस सवाल पर खुद बीजेपी नेता और गृह मंत्री अमित शाह ने चुप्पी तोड़ी है। साथ ही उन्होंने संविधान संशोधन और अरविंद केजरीवाल पर भी जवाब दिया है।
09:35 AM May 17, 2024 IST | Sakshi Pandey
अगर बहुमत नहीं म‍िला तो क्‍या होगा bjp का प्‍लान बी  अम‍ित शाह ने तोड़ी चुप्‍पी  केजरीवाल पर भी साधा न‍िशाना
Home Minister Amit Shah

Amit Shah Interview: लोकसभा चुनाव के चार चरण के मतदान पूरे हो चुके हैं। बीजेपी बहुमत की आस लगाए बैठी है तो इंडी गठबंधन ने भी वापसी की पूरी तैयारी कर ली है। इसी बीच गृह मंत्री अमित शाह ने पार्टी के प्लान बी से लेकर अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी पर भी बयान दिया है।

क्या है प्लान बी?

ANI को दिए एक इंटरव्यू में जब अमित शाह से पूछा गया कि अगर बीजेपी बहुमत हासिल ना कर सकी तो उसका प्लान बी क्या होगा? इसका जवाब देते हुए अमित शाह ने कहा कि प्लान बी तब बनाया जाता है कि जब प्लान ए फेल होने के 60 फीसदी आसार हों। मगर प्रधानमंत्री मोदी फिर से तीसरी बार सत्ता में आने वाले हैं। इसलिए प्लान बी बनाने का कोई सवाल ही नहीं उठता।

बहुमत के बाद बदलेगा संविधान?

लोकसभा चुनाव में बहुमत मिलने के बाद संविधान संशोधनों का जिक्र करते हुए अमित शाह ने कहा कि हमारे पास पिछले 10 सालों से बहुमत था और अगर हम चाहते तो संविधान बदल सकते थे। लेकिन हम ऐसा कभी नहीं करेंगे। बहुमत का दुरुपयोग करने का इतिहास मेरी पार्टी का नहीं है। बहुमत का दुरुपयोग इंदिरा गांधी के समय कांग्रेस ने किया।

अरविंद केजरीवाल पर भी बोले

अरविंद केजरीवाल पर बात करते हुए अमित शाह ने कहा कि, मतदाता के रूप में मुझे लगता है कि वो जब कभी जनता के बीच में जाएंगे लोगों को उनका शराब घोटाला याद आएगा।

दक्षिण भारत में बीजेपी बनेगी सबसे बड़ा पार्टी

नॉर्थ-साउथ डिवाइड पर बात करते हुए गृह मंत्री ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के एक बड़े नेता ने नॉर्थ-साउथ डिवाइड की बात कही थी। लेकिन अगर कोई कहता है कि ये देश अलग है तो ऐसा नहीं है। ये देश अब कभी अलग नहीं हो सकता है। दक्षिण भारत के पाच राज्यों केरल, तमिनाडु, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और कर्नाटक में बीजेपी अकेली सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरेगी।

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो