whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

इन जगहों पर नहीं आ सकती मंदी, छंटनी के दौर में भी बच जाएगी आपकी जॉब

Recession Proof Industries: आईटी और टेक कंपनियों में रिसेशन का दौर चल रहा है। हालांकि कुछ इंडस्ट्री ऐसी भी हैं, जहां मंदी का प्रभाव नहीं है। आइए जानते हैं कि वो कौन-कौनसी इंडस्ट्री हैं, जहां आपकी जॉब पर संकट कम रह सकता है।
07:05 PM Apr 01, 2024 IST | Pushpendra Sharma
इन जगहों पर नहीं आ सकती मंदी  छंटनी के दौर में भी बच जाएगी आपकी जॉब
Job Layoffs

Recession Proof Industries: कई कंपनियों में इन दिनों छंटनी का दौर चल रहा है। कई बड़ी टेक कंपनियां मंदी के दौर से जूझ रही हैं। जिससे कर्मचारियों की नौकरी पर संकट आ गया है। नवंबर 2023 से शुरू हुआ ये दौर अब भी चल रहा है। हालांकि कई जगहें ऐसी हैं, जहां मंदी का प्रभाव बेहद कम होता है। यहां आपकी जॉब सुरक्षित रह सकती है। आइए जानते हैं वे जगहें कौनसी हैं...

हेल्थकेयर सेक्टर 

हेल्थकेयर और सोशल सर्विसेज के क्षेत्र छंटनी से अछूते रह सकते हैं। कोरोनाकाल के दौरान भी जब लोगों की जॉब पर संकट आया तो हेल्थकेयर में इसका असर उल्टा हुआ। यहां ज्यादा से ज्यादा लोगों की जरूरत पड़ी। डॉक्टर, नर्स और अन्य स्टाफ की हमेशा मरीजों की देखभाल के लिए जरूरत होती है। वहीं अस्पतालों, सरकारी सुविधाओं और एजेंसियों को अभी भी दवा कंपनियों की जरूरत है। खास बात यह है कि सरकार का भी फोकस अक्सर हेल्थकेयर पर रहता है। अर्थव्यवस्था को प्रोत्साहित करने के लिए सरकार अक्सर स्वास्थ्य देखभाल पर अपना खर्च बढ़ाती है। ऐेसे में हेल्थकेयर सेक्टर में काम कर रहे लोगों को चिंता करने की जरूरत नहीं है।

रिटेल, फूड और अकॉमोडेशन 

आर्थिक मंदी के दौरान भी खाने-पीने का सामान खूब बिकता है। ऐसे में किराने के सामान और कच्चे माल जैसी आवश्यक वस्तुओं के लिए ग्राहकों की मांग में गिरावट नहीं आती। भारत के रिटेल मार्केट में 2027 तक आवश्यक वस्तुओं की मांग 1.1 ट्रिलियन डॉलर पहुंचने की उम्मीद है। जबकि 2032 तक 2 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंच सकती है। इसी तरह, भारत की जीडीपी में होटल इंडस्ट्री का योगदान 2022 में 40 बिलियन डॉलर था।

आईटी की कई कंपनियां कर चुकी हैं छंटनी

अब इसके 2027 तक 68 बिलियन डॉलर तक पहुंचने की उम्मीद है। ऐसे में कहा जा सकता है कि रिटेल, फूड और अकॉमोडेशन के क्षेत्र मंदी और छंटनी से अछूते रह सकते हैं। यहां आईटी की तरह काम करने वाले लोगों की नौकरी पर खतरा कम है। आपको बता दें कि कुछ समय पहले अल्फाबेट ने हजारों कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया था। वहीं Google ने भी छंटनी की बात कही है। ऐप्पल, अमेजन, मेटा, डेल, एरिक्सन, सिस्को और एसएपी समेत कई आईटी कंपनियां पिछले कुछ महीनों से छंटनी कर रही हैं।

ये भी पढ़ें: Government Job: दो लाख रुपये से ज्यादा की सैलरी वाली सरकारी नौकरी, यहां जानिए पूरी डिटेल

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो