whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

Madhya Pradesh सीएम मोहन यादव का राहुल गांधी की 'न्याय यात्रा' पर तीखा हमला

Madhya Pradesh CM Mohan Yadav: लोकसभा चुनाव 2024 आने वाले हैं। ऐसे में सारी पार्टियां जोरों-शोरों से चुनावी मैदान में उतर गई हैं। इस बीच कई नेताओं ने कांग्रेस का हाथ छोड़ भाजपा का दामन थाम लिया है। मध्य प्रदेश के सीएम मोहन यादव ने राहुल गांधी की 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा' पर तीखा हमला बोला है।
05:16 PM Mar 09, 2024 IST | Prerna Joshi
madhya pradesh सीएम मोहन यादव का राहुल गांधी की  न्याय यात्रा  पर तीखा हमला
Madhya Pradesh CM Mohan Yadav

Madhya Pradesh CM Mohan Yadav: लोकसभा चुनाव 2024 नजदीक हैं, लेकिन तारीखों के ऐलान से पहले ही कांग्रेस के दिग्गज नेताओं ने भाजपा की सदस्यता ले ली है। कांग्रेस के दिग्गज नेता और अकलतरा से विधायक रहे चुन्नीलाल साहू ने भी आरोप लगाते हुए कांग्रेस पार्टी को बड़ा झटका दिया है।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने राहुल गांधी की 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा' पर तंज कसा है। उन्होंने उनकी यात्रा पर प्रश्न चिन्ह लगा दिया है। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि राहुल गांधी आगे-आगे चल रहे हैं और पीछे-पीछे कांग्रेस साफ होती जा रही है।

कौन-कौन से नेता कांग्रेस छोड़ भाजपा में हुए शामिल?

जानकारी के लिए बता दें कि शनिवार को कांग्रेस के जाने-माने नेता सुरेश पचौरी, पूर्व विधायक संजय शुक्ला, विशाल पटेल, पूर्व सांसद गजेंद्र सिंह राजू खेड़ी समेत कई नेता बीजेपी में शामिल हो गए। इसी मौके पर मुख्यमंत्री मोहन यादव ने राहुल गांधी की न्याय यात्रा पर तीखा हमला बोला है।

चुनाव के समय ही आता है इस्तीफे का दौर

राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा 6 मार्च को मध्य प्रदेश से राजस्थान में एंटर कर गई थी। मध्य प्रदेश में अगर पिछले कुछ सालों के आंकड़ों पर नजर दौड़ाई जाए तो हर चुनाव से पहले और बाद में कई बड़े नेताओं के कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल होने की खबरें सामने आ चुकी हैं।

चुन्नीलाल साहू ने बताया इस्तीफे का कारण

अकलतरा के पूर्व विधायक चुन्नीलाल साहू ने अपने इस्तीफे का कारण देते हुए कहा कि कांग्रेस सिर्फ नाम का संगठन रह गया है। इसमें निष्ठावान कार्यकर्ता का सम्मान नहीं किया जा रहा है और न ही उनके काम का मूल्यांकन किया जा रहा है। कांग्रेस के लिए जितनी मेहनत कर दी जाए, उतनी कम है। मेहनत का कोई नतीजा नहीं निकल रहा, इसीलिए उन्होंने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया।

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो