whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

शिंदे गुट ने 18 लोकसभा सीटों पर ठोंका दावा, क्या बीजेपी के साथ बनेगी बात?

BJP Shiv Sena Seat Sharing: महाराष्ट्र में बीजेपी और शिवसेना के बीच सीट बंटवारे पर अब तक सहमति नहीं बन पाई है। सोमवार को हुई शिवसेना की बैठक में सांसदों ने सीएम शिंदे से पिछली बार जीती गई सभी 18 सीटों पर चुनाव लड़ने की मांग की, जबकि बीजेपी केवल 13 सीट देना चाहती है।
12:25 PM Feb 27, 2024 IST | Vinod Jagdale
शिंदे गुट ने 18 लोकसभा सीटों पर ठोंका दावा  क्या बीजेपी के साथ बनेगी बात
लोकसभा चुनाव 2024 में बीजेपी-शिंदे गुट के बीच सीट शेयरिंग को लेकर बनेगी बात?

विनोद जगदाले

Lok Sabha Election 2024 BJP Shiv Sena Seat Sharing: शिवसेना की शिंदे गुट के सांसदों की सोमवार को हुई बैठक में पिछले लोकसभा चुनाव में जीती गई सभी 18 सीटों पर दावा करने का फैसला लिया गया। पिछले चुनाव में शिवसेना ने लोकसभा की 18 सीटों पर जीत दर्ज की थी। जब शिवसेना में टूट हुई तो पार्टी और चुनाव चिन्ह मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के हाथों में आ गया। शिंदे के साथ शिवसेना के लोकसभा के 18 सांसदों में से 13 सांसद साथ आये तो 5 लोकसभा सांसदों ने उद्धव ठाकरे के प्रति अपनी निष्ठा दिखाई। इसमें सीएम के गढ़ ठाणे के सांसद राजन विचारे भी शामिल है।

शिवसेना ने 18 सीटों पर ठोंका दावा

सोमवार को शिंदे की शिवसेना के सांसदों की बैठक आयोजित की गई थी, जिसमें सभी सांसदों ने सीएम शिंदे से  18 लोकसभा सीटों पर दावा करने की मांग की। सांसदों ने कहा कि भले ही 18 सांसद साथ में नहीं हैं, लेकिन पार्टी के सांसद जहां हैं, वह सीट दोस्त पार्टी के लिए ना छोड़ी जाए।

सीएम शिंदे लेंगे सीट बंटवारे पर अंतिम फैसला

शिवेसना की बैठक में सीट बंटवारे की चर्चा और फैसला लेने का अधिकार सीएम एकनाथ शिंदे को दिया गया। साथ ही चुनाव में हिंदुत्व के मुद्दे को लेकर प्रचार करने का निर्णय लिया गया है। प्रचार में समृद्धि हाईवे और अटल सेतु जैसे बड़े इन्फ़्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट को भी शामिल किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: शिवसेना के पहले सीएम, जिन्होंने विधायक से लेकर लोकसभा स्पीकर तक का सफर किया तय

सीट बंटवारे पर अब तक नहीं बन पाई सहमति

शिंदे गुट के पास 13 सांसद हैं। बीजेपी उसे 13 सीटें देने को तैयार है। एनसीपी के अजित पवार गुट ने भी लोकसभा की ज्यादा सीटों पर दावा ठोंका है। भाजपा भी 30 सीटों पर चुनाव लड़ना चाहती है। ऐसे में महायुति में सीट बंटवारा अहम मुद्दा होगा। शिवसेना की बैठक में सांसदों ने जल्द से जल्द सीट बंटवारा करने पर जोर दिया, ताकि चुनाव प्रचार की शुरुआत किया जा सके

यह भी पढ़ें: मनोज जरांगे पाटिल के खिलाफ सरकार सख्त, सीएम शिंदे ने दी चेतावनी

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो