whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

MVA गठबंधन में सुलझा सीटों का विवाद, जानें किस पार्टी को मिली कितनी सीटें?

Maharashtra Lok Sabha Election 2024: लोकसभा चुनाव के मद्देनजर MVA गठबंधन ने सीट बंटवारे पर सहमति जता दी है, जिसके साथ लंबे समय से चल रही तकरार पर ब्रेक लग चुका है। इस सीट बंटवारे में सबसे ज्यादा सीटें उद्धव ठाकरे की शिवसेना को मिली हैं तो कांग्रेस दूसरे और शरद पवार की एनसीपी तीसरे नंबर पर है।
12:08 PM Apr 09, 2024 IST | News24 हिंदी
mva गठबंधन में सुलझा सीटों का विवाद  जानें किस पार्टी को मिली कितनी सीटें

Maharashtra Lok Sabha Election 2024: लोकसभा चुनाव से पहले MVA महागठबंधन में लगी गांठ खुल चुकी हैं। गठबंधन में मौजूद पार्टियों ने आपसी सहमित से सीट बंटवारे को हरी झंडी दिखा दी है। ऐसे में सवाल ये है कि महाराष्ट्र की 48 सीटों में से किस पार्टी के खाते में कितनी सीटें गई हैं?

शिवसेना ने मारी बाजी

MVA के सीट बंटवारें में सबसे ज्यादा सीटें शिवसेना (यूबीटी) के पास हैं। शिवसेना (यूबीटी) महाराष्ट्र की 21 सीटों पर चुनाव लड़ेगी तो वहीं कांग्रेस पार्टी राज्य की 17 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी। इसके अलावा शरद पवार की एनसीपी महज 10 सीटों पर ही लोकसभा चुनाव लड़ती नजर आएगी।

अहम सीटों पर टिकी सबकी नजर

MVA गठबंधन में सीट बंटवारे पर मचा विवाद थमने के बाद सबकी नजरें महाराष्ट्र की बड़ी सीटों पर टिकी हैं। बता दें कि नंदूरवार ,धुले ,अकोला  और भंडारा गोदिया, नांदेड़, उत्तर मध्य और उत्तर मुंबई सहित 17 सीटें कांग्रेस के खाते में हैं।  वहीं एनसीपी की 10 सीटों में बारामती, शिरूर, भिवंडी, सतारा और माढा का नाम शामिल है। इसके अलावा शिवसेना को सांगली और दक्षिण मध्य मुंबई सहित 21 सीटें मिली हैं।

सांगली पर मचा था विवाद

महाराष्ट्र की सांगली सीट पर भी काफी समय से शिवसेना और कांग्रेस के बीच तकरार की खबरें सामने आ रही थीं। आखिर में कांग्रेस ने इस सीट से अपना हाथ पीछे खींच लिया है और शिवसेना पहले ही सांगली से अपना उम्मीदवार उतार चुकी है। उद्धव ठाकरे ने चंद्रहार पाटिल को पहले ही सांगली से चुनावी मैदान में उतार दिया है।

इन सीटों पर भी हुआ विवाद

सांगली के अलावा दक्षिण मुंबई और उत्तर पश्चिम मुंबई की सीटों पर भी कांग्रेस और शिवसेना के बीच विवाद चल रहा था। मगर अब इन तीनों सीटों पर शिवसेना का कब्जा हो चुका है। इसके अलावा भिंडवी सीट को लेकर एनसीपी और कांग्रेस में मनमुटाव चल रहा था। कांग्रेस पार्टी ने एनसीपी के लिए ये सीट भी छोड़ दी है। एनसीपी ने भी पहले ही भिंडवी से अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया है।

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो