whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

लग्न और चंद्र राशिफल क्या, कैसे पता करें, कौन-सा ज्यादा सटीक? जानें क्या कहता है वैदिक ज्योतिष

Lagna vs Chandra Rashifal: बहुत से लोगों के मन में यह दुविधा रहती है कि किस राशि से राशिफल देखना चाहिए, लग्न राशिफल से या फिर चंद्र राशिफल से, जानिए क्या कहता है इस बिंदु पर भारत का सनातन वैदिक ज्योतिष।
04:32 PM Apr 21, 2024 IST | News24 हिंदी
लग्न और चंद्र राशिफल क्या  कैसे पता करें  कौन सा ज्यादा सटीक  जानें क्या कहता है वैदिक ज्योतिष
लग्न और चंद्र राशिफल में कौन अधिक सटीक?

Lagna vs Chandra Rashifal: दुनिया की सभी सभ्यताओं में यह विश्वास किया जाता है कि मनुष्य के जीवन पर ग्रहों और राशियों का प्रभाव पड़ता है। इसके लिए दैनिक, साप्ताहिक, मासिक और वार्षिक राशिफल बनाए और देखे जाते हैं। ऐसे बहुत से लोग हैं, जिन्हें अक्सर यह दुविधा बनी रहती है कि अपना राशिफल वे लग्न की राशि से देखें या चंद्रमा की राशि से। इससे जुड़ी एक रोचक बात यह है कि बहुत से लोग अपना दैनिक या साप्ताहिक राशिफल लग्न और चंद्र दोनों ही राशियों से देखते हैं और जो उस दिन या हफ्ते के लिए अनुकूल हो जाता है, वे उसके साथ हो लेते हैं।

क्या है लग्न राशि?

किसी कुंडली के पहले घर (First House), जिसे 'प्रथम भाव' भी कहते हैं, को 'लग्न' (Lagna) कहा जाता है। इसे उदय लग्न या जन्म लग्न भी कहते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, किसी कुंडली में लग्न की राशि उस राशि को दर्शाता है, जो किसी व्यक्ति के जन्म के समय पूर्व दिशा में उदित हो रही होती है। किसी भी जन्म पत्रिका यानी कुंडली में प्रथम भाव यानी लग्न काफी महत्त्व रखता है। यह व्यक्ति के शारीरिक बनावट, स्वास्थ्य, व्यक्तित्व, जीवन शैली और जिंदगी की सभी महत्वपूर्ण घटनाओं को दर्शाता है।

लग्न राशि कैसे पता करें?

कोई भी अपने जन्म के विवरण के तीन तथ्यों—व्यक्ति जन्म तिथि, जन्म का समय और जन्म स्थान—की सही-सही जानकारी के आधार पर किसी ज्योतिष से कुंडली बनवाकर अपनी लग्न राशि (Lagna Rashi) का पता लगा सकते हैं। आजकल ऑनलाइन ज्योतिष कैलकुलेटर और कुछ मोबाइल एप्लिकेशन भी हैं, जिनकी सहायता से आप अपनी लग्न राशि की जानकारी आसानी से लगा सकते है।

क्या है चंद्र राशि?

ज्योतिष शास्त्र में, चंद्र राशि (Chandra Rashi) उस राशि को दर्शाता है, जिसमें जन्म के समय चंद्रमा स्थित होता है। कहने का तात्पर्य यह है कि कुंडली के किसी भाव में चंद्रमा जिस राशि के साथ होता है, उसे चंद्र राशि कहते हैं। किसी कुंडली में राशि को 1, 2, 3 आदि नंबरों से दर्शाया जाता है, जो 1 से 12 तक होती हैं। बता दें, सभी नंबर अलग-अलग राशियों का प्रतिनिधित्व करते हैं।

चंद्र राशि कैसे पता करें?

चंद्र राशि की जानकरी भी लग्न राशि की तरह ही लगाई जाती है। इसकी जानकारी के लिए भी जन्म विवरण के उन्हीं तीनों आंकड़ों और तथ्यों की जरूरत होती है। यहां एक बात यह जानना जरुरी है कि संयोग से किसी व्यक्ति की लग्न राशि और चंद्र राशि एक ही हो सकती है। ऐसे व्यक्ति अपना राशिफल लग्न राशि से देखें या चंद्र राशि से एक ही बात है।

ये भी पढ़ें: Surya ke Upay: सूर्य दोष को सही करने के लिए रविवार को जरूर करें ये काम, जल्दी पाएंगे सफलता और मान-सम्मान

लग्न या चंद्र राशि में कौन है सटीक?

अधिकांश ज्योतिषियों के अनुसार, आप अपना राशिफल किसी भी राशि। लग्न या चंद्र, से देखें, दोनों ही लगभग सटीक ही होते हैं। क्योंकि, दोनों ही प्रेडिक्शन यानी संभावनाएं (Prediction) हैं। यहां गणितीय सिद्धांत लागू न होकर तर्क और प्रायिकता के सिद्धांत प्रभावी होते हैं। इसमें शत-प्रतिशत कुछ भी व्यक्त नहीं होता है, लेकिग प्रेडिक्शन यानी भविष्यफल करने की पद्धति एक मेथोडोलॉजी पर आधारित होती है। इसलिए दोनों के प्रेडिक्शन लगभग सटीक होते हैं।

ये भी पढ़ें: Powerful Hanuman Mantra: हनुमान जयंती पर इन विशेष मंत्रों से करें बजरंगबली की स्तुति, बन जाएंगे सभी बिगड़े काम

क्या कहता है वैदिक ज्योतिष?

वैदिक ज्योतिष (Vedic Jyotish) दैनिक और साप्ताहिक राशिफल के लिए चंद्र राशि को सटीक मानता है। वैदिक ज्योतिष के ग्रंथों और शास्त्रों में चंद्रमा को मन का कारक माना गया है। साथ ही, चंद्रमा को व्यक्ति की भावनाओं, मानसिकता, संवेदनशीलता, कल्पना शक्ति, स्मृति, परिवार और मातृत्व से संबंधित है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार, इन सभी पहलुओं का व्यक्ति के कार्य और व्यवहार पर सबसे अधिक होता है। इसलिए विशेष कर दैनिक और साप्ताहिक राशिफलकी सटीकता के लिए चंद्र कुंडली अधिक उपयुक्त है। वहीं मासिक और वार्षिक राशिफल के सूर्य कुंडली और सूर्य राशिफल का ध्यान रखना अधिक जरूरी है।

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो