whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

IND vs SA: 'टेस्ट क्रिकेट में पुजारा जैसा बल्लेबाज नहीं..' भारत की हार पर भड़के हरभजन सिंह

Harbhajan Singh Reaction: पहले टेस्ट मैच में टीम इंडिया की हार के बाद हरभजन सिंह ने टीम इंडिया पर उठाए सवाल।
05:29 PM Dec 29, 2023 IST | Vishal Pundir
ind vs sa   टेस्ट क्रिकेट में पुजारा जैसा बल्लेबाज नहीं    भारत की हार पर भड़के हरभजन सिंह
Image Credit: Social Media

Harbhajan Singh Reaction: पहले टेस्ट मैच में भारतीय टीम की हार के बाद अब टीम इंडिया पर काफी सवाल उठ रहे हैं। सेंचुरियन टेस्ट में टीम इंडिया की न तो बल्लेबाजी चली और न ही गेंदबाजी। इस टेस्ट सीरीज के लिए टीम में युवा खिलाड़ियों पर सेलेक्टर्स ने ज्यादा भरोसा जताया है। जबकि अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा जैसे टेस्ट क्रिकेट के बड़े खिलाड़ियों को इस सीरीज के लिए टीम में शामिल नहीं किया गया है। जिसको लेकर अब टीम इंडिया के पूर्व स्पिन गेंदबाज हरभजन सिंह ने अपनी भड़ास निकाली है।

पुजारा-रहाणे को बहार करने पर भज्जी ने उठाया सवाल

साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेली जा रही टेस्ट सीरीज से चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे इन दोनों ही बल्लेबाजों को बार रखा गया है। इसको लेकर अब अपने यूट्यूब चैनल पर बोलते हुए हरभजन सिंह ने कहा कि मेरी समझ में नहीं आता कि आखिरी रहाणे और पुजारा को टेस्ट टीम से बाहर क्यों किया गया। इन दोनों खिलाड़ियों ने हर जगह टीम के लिए रन बनाए हैं। बात अगर पिछले रिकॉर्ड की बात करें तो पुजारा का भी उतना ही योगदान रहा है जितना की विराट कोहली का। फिर भी पुजारा को टीम से बाहर कर दिया गया जो मेरी समझ नहीं आ रहा है। टेस्ट क्रिकेट में हमारे पास पुजारा से शानदार बल्लेबाज नहीं है।

ये भी पढ़ें:- टेस्ट क्रिकेट में विराट कोहली के नाम हुई खास उपलब्धि, सहवाग और वीवीएस लक्ष्मण को पछाड़ा

साल 2023 की शुरुआत में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेली गई टेस्ट सीरीज में रहाणे और पुजारा दोनों शामिल थे। इस सीरीज के बाद से इन दोनों को टेस्ट टीम से बाहर कर दिया गया था। विदेशी पिचों पर इन दोनों खिलाड़ियों ने भारतीय टीमों के लिए अहम मौके पर कई शानदार पारियां खेली है।

ऐसे में इतनी बड़ी सीरीज से दोनों खिलाड़ियों को बाहर कर देना टीम इंडिया पर कहीं न कहीं सवाल खड़ा कर रहा है। सेंचुरियन टेस्ट में जिस तरह से टीम इंडिया के लगातार विकेट गिरते चले गए। उसको देखकर अब लग रहा है कि टीम अनुभवी खिलाड़ी का होना कितना जरुरी है।