whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

Arvinder Singh Lovely के इस्तीफे पर भाजपा नेता का बड़ा बयान, कहा- सोनिया गांधी को गिरफ्तार...

BJP on Arvinder Singh Lovely Resignation: दिल्ली कांग्रेस के अध्यक्ष अरविंदर सिंह लवली के इस्तीफे से राजधानी में सियासी बवाल मच गया है। जहां लवली के इस्तीफे की वजह कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के गठबंधन को माना जा रहा है तो वहीं भाजपा नेता ने भी मामले पर प्रतिक्रिया दी है।
02:04 PM Apr 28, 2024 IST | Sakshi Pandey
arvinder singh lovely के इस्तीफे पर भाजपा नेता का बड़ा बयान  कहा  सोनिया गांधी को गिरफ्तार

BJP on Arvinder Singh Lovely Resignation: दिल्ली कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष रहे अरविंदर सिंह लवली के इस्तीफे से पार्टी में अफरा-तफरी मची है। कांग्रेस के कई बड़े नेता अरविंदर सिंह से संपर्क साधने में जुटे हैं। इसी बीच भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता शहजाद पूनावाला ने बड़ा बयान दिया है।

सोनिया गांधी को गिरफ्तार करने का वादा

अरविंदर सिंह लवली के इस्तीफे की वजह आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के गठबंधन को बताया जा रहा है, जिसपर बात करते हुए शहजादा पूनावाला ने कहा कि अरविंद केजरीवाल की पार्टी ने कभी सोनिया गांधी और दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को गिरफ्तार करने का वादा किया था। मगर अब उसी कांग्रेस से हाथ मिला लिया है।

कन्हैया कुमार पर साधा निशाना

कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधते हुए भाजपा नेता ने कहा कि कांग्रेस के पास कोई विजन या मिशन नहीं है। दिल्ली में कांग्रेस के कार्यकर्ता सड़कों पर उतर आए हैं। पार्टी ऐसे लोगों को टिकट दे रही है, जिनका दिल्ली से कोई वास्ता नहीं है। कन्हैया कुमार ने सेना को गाली दी और नक्सलियों को शहीद बताया। वहीं कांग्रेस पार्टी ने कन्हैया को दिल्ली से अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया।

क्यों दिया इस्तीफा?

खबरों की मानें तो अरविंदर सिंह लवली आप-कांग्रेस गठबंधन के खिलाफ थे। यही नहीं आम आदमी पार्टी के कई स्थानीय नेताओं ने इसका विरोध किया था। क्योंकि आम आदमी पार्टी ने कांग्रेस पर भ्रष्टाचार जैसे कई गंभीर आरोप लगाए थे। ऐसे में अब उसी आम आदमी पार्टी से हाथ मिलाना कांग्रेस नेताओं को रास नहीं आ रहा।

इस्तीफे में लिखी वजह

अरविंदर सिंह लवली ने अपने इस्तीफे में भी इस बात का जिक्र किया है। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन को दिए इस्तीफे में उन्होंने लिखा कि आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में कांग्रेस के भ्रष्टाचार का नारा बुलंद करके ही दिल्ली में खुद को स्थापित किया था। इसलिए दिल्ली कांग्रेस आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन के सख्त खिलाफ थी। मगर इसके बावजूद कांग्रेस और आप का गठबंधन हो गया।

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो