whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

1 रुपये महीना कमाने वाला IAS अफसर, करोड़ों में नेट वर्थ

IAS Officer Earning 1 Rupees Salary: भारत में कई लोग ऐसे भी हैं, जो सिर्फ देश की सेवा करने के लिए हर मुमकिन काम कर रहे हैं। इस बीच, एक नाम आता है आईएएस अफसर अमित कटारिया का। वह मात्र 1 रुपये सैलरी लेकर देश की सेवा में जुटे हुए हैं। जानें कैसे चलता है उनका खर्चा और परिवार से जुड़ी बाकी डिटेल्स।
06:52 PM Apr 19, 2024 IST | Prerna Joshi
1 रुपये महीना कमाने वाला ias अफसर  करोड़ों में नेट वर्थ
IAS Officer Earning 1 Rupees Salary

IAS Officer Earning 1 Rupees Salary: देश में लाखों स्टूडेंट यूपीएससी का एग्जाम देते हैं। कई एग्जाम क्रैक कर लेते हैं और कई फेल होने के बाद फिर से ट्राई करते हैं। लगभग हर किसी का सपना होता है कि वह आईएएस जैसा बड़ा अफसर बने। अफसर को अच्छी सैलरी के साथ-साथ बढ़िया घर भी मिलता है। इस बीच, एक शख्स ऐसा भी है जो यूपीएससी क्लियर करने के बाद भी सिर्फ 1 रुपये ही कमा रहा है।

देश के सबसे अमीर आईएएस अफसर

आज भी ऐसे लोग मौजूद हैं, जो अपने स्वार्थ को छोड़कर सिर्फ देश की सेवा करना चाहते हैं। उन्हें सैलरी और ठाठ-बाठ से कोई लेना देना नहीं होता। ऐसे ही एक अफसर अमित कटारिया भी हैं। वह देश के सबसे अमीर आईपीएस अफसर माने जाते हैं।

1 रुपये सैलरी से कैसे चलता है घर?

छत्तीसगढ़ कैडर के 2004 बैच के आईएएस अफसर अमित कटारिया का भारत में काफी नाम हैं। वह फेमस इसलिए हैं क्योंकि ₹1 के तौर पर ही सैलरी लेते हैं। इस बीच लोगों के मन में सवाल आता है कि बिना सैलरी लिए वह घर का खर्चा कैसे चलाते हैं? तो आपको बता दें कि अमित कटारिया का फैमिली बिजनेस है। दरअसल, गुड़गांव में उनके परिवार का कंस्ट्रक्शन बिजनेस है।

क्या करती हैं पत्नी?

अमित कटारिया की वाइफ अस्मिता हांडा प्रोफेशनल पायलट है। यही वजह है कि पत्नी की सैलरी और फैमिली बिजनेस की इनकम से उनके घर का खर्चा काफी अच्छे से चल जाता है। जब आईएएस अमित कटारिया से पूछा गया कि वह ₹1 सैलरी क्यों लेते हैं, तब उन्होंने बताया कि वह सिस्टम में बदलाव लाने के लिए आईएएस अफसर बने हैं पैसे कमाने के लिए नहीं।

कितनी संपत्ति के हैं मालिक?

आपको बता दें कि अमित कटारिया करीब 9 करोड़ के आसपास यानी 8.80 करोड़ की संपत्ति के मालिक हैं। उनकी सालाना इनकम 24 लाख रुपए है जो फैमिली बिजनेस से आती है। इस बिजनेस को उनके फैमिली मेंबर चलाते हैं। वर्तमान में अमित छत्तीसगढ़ में जॉइंट सेक्रेटरी ग्रामीण विकास का पद संभाल रहे हैं।

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो