whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

कौन हैं राज शेखावत? करणी सेना से जुड़ा है नाम, गुजरात पुलिस ने क्यों हिरासत में लिया

Who is Raj Shekhawat : देश में लोकसभा चुनाव 2024 का महासंग्राम शुरू हो गया है। राजनीतिक दलों ने चुनाव प्रचार तेज कर दिया है। इस बीच गुजरात में भाजपा प्रत्याशी और केंद्रीय मंत्री परसोत्तम रूपाला के खिलाफ राजपूत समाज एकजुट हो गया है। इसी क्रम में पुलिस ने मंगलवार को राज शेखावत को हिरासत में लिया है।
07:25 PM Apr 09, 2024 IST | Deepak Pandey
कौन हैं राज शेखावत  करणी सेना से जुड़ा है नाम  गुजरात पुलिस ने क्यों हिरासत में लिया
कौन हैं राज शेखावत?

Who is Raj Shekhawat : देश में लोकसभा चुनाव 2024 का बिगुल बज गया है। राजनीतिक दलों ने चुनाव में अपनी ताकत झोंक दी है। गुजरात में परसोत्तम रूपाला के बयान से भारतीय जनता पार्टी (BJP) की मुश्किलें बढ़ गई हैं। परसोत्तम रूपाला का क्षत्रिय समाज विरोध कर रहा है। इसी क्रम में गुजरात पुलिस ने राज शेखावत को हिरासत में लिया है। आइए जानते हैं कि कौन हैं राज शेखावत?

कौन हैं राज शेखावत?

राज शेखावत क्षत्रिय करणी सेना परिवार के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। उन्होंने केंद्रीय मंत्री और भाजपा प्रत्याशी परसोत्तम रूपाला के बयान के खिलाफ गांधीनगर के भाजपा मुख्यालय का घेराव करने की घोषणा की थी। इसी क्रम में जब वे गांधीनगर एयरपोर्ट पहुंचे तो पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया।

यह भी पढ़ें : ‘दशकों तक पुरानी सोच पर चली कांग्रेस’, पढ़ें पीएम मोदी के संबोधन की 10 बड़ी बातें

पगड़ी मत छूना : राज शेखावत

राज शेखावत राजस्थान के जयपुर से गुजरात के अहमदाबाद पहुंचे। पहले राज शेखावत को नजरबंद रखा गया और बाद में उन्हें हिरासत में ले लिया गया। हिरासत के दौरान पुलिस और राज शेखावत के बीच जमकर नोकझोंक हुई। जब पुलिस वैन में राज शेखावत को बैठाया जा रहा था, तब उनकी पगड़ी उतार दी गई। इस पर शेखावत ने गुस्से में कहा कि पगड़ी मत छूना। इसे लेकर वीडियो भी सामने आया है।

यह भी पढ़ें : रणदीप सुरजेवाला को ECI ने क्यों भेजा नोटिस? हेमा मालिनी से जुड़ा क्या है पूरा मामला

जानें क्यों हो रहा विरोध प्रदर्शन

भाजपा ने केंद्रीय मंत्री परसोत्तम रूपाला को गुजरात के राजकोट से चुनावी मैदान में उतारा है। रूपाला ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था कि विदेशी शासकों और अंग्रेजों के सामने तत्कालीन ‘महाराजाओं’ ने घुटने टेक दिए थे। उन्होंने उनके साथ में रोटी तोड़ी और अपनी बेटी की शादी कराई। उनके इस बयान से राजपूत समुदाय नाराज है और मंत्री के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहा है।

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो