whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

'मुझे सिगरेट से दागा...16 दिन नहीं दिया खाना', रूस से लौटे युवक ने सुनाई आपबीती

Haryana youth recounts horror in Russia: रूस से लौटे मुकेश ने मीडिया को बताया कि एजेंटों ने उसे जर्मनी पहुंचाने का वादा किया, लेकिन इससे पहले उसे सितंबर 2023 में बैंकॉक भेज दिया गया। बैंकॉक में एजेंटों के साथियों ने उसे बंधक बना लिया, फिर उसे जबरन रूसी सेना में भर्ती कराया गया।
05:43 PM Mar 30, 2024 IST | Amit Kasana
 मुझे सिगरेट से दागा   16 दिन नहीं दिया खाना   रूस से लौटे युवक ने सुनाई आपबीती
मुकेश

Haryana youth recounts horror in Russia: हरियाणा का रहने वाला मुकेश डंकी रूट (अवैध रूप से) से रूस पहुंचा था। एजेंटों ने उसे नौकरी का झांसा और रशियन लड़की से शादी कराने का वादा किया था। लेकिन वहां उसे रूस-यूक्रेन जंग लड़ने के लिए मजबूर किया गया। किसी तरह वह इंडिया लौटा है, जहां उसने अपनी आपबीती मीडिया में बताई है।

रूस में 300 भारतीय फंसे 

मुकेश अपने चचेरे भाई सन्नी के साथ रूस से भारत लौटा है। मीडिया को दिए बयानों में उसने बताया कि उसके साथ रूस में करीब 300 भारतीय थे। उसका दावा है कि सभी को एजेंटों ने नौकरी का झांसा देकर लाखों रुपये के एवज में रूस भेजा है। उसने कहा कि विदेश जाने और पैसे कमाने के लिए नौकरी की तलाश में वह किसी तरह एजेंटों के संपर्क में आया।

एजेंटों के साथियों ने वसूली 10 लाख फिरौती

मुकेश ने कहा कि एजेंटों ने उसे डंकी रूट से जर्मनी पहुंचाने का वादा किया लेकिन इससे पहले उसे सितंबर 2023 में बैंकॉक भेज दिया गया। बैंकॉक में एजेंटों के साथियों (डोनरों) ने उसे बंधक बना लिया और विरोध करने पर उसके साथ मारपीट की और उसे सिगरेट से दागा। इसके अलावा उसे और उसके भाई को जंगल में रखा। आरोप है कि डोनरों ने परिजनों से वीडियो कॉल  पर बात की और 10 लाख रुपये फिरौती वसूली। उसने कहा कि परिजनों ने जमीन बेचकर किसी तरह यह रकम जुटाई थी।

ये भी पढ़ें: Seema Haider को गंदी नजर से देखते हैं..,आंखें निकाल लूंगा! कोर्ट पहुंचा मामला

10 साल के लिए जेल में डालने की धमकी

मुकेश ने कहा कि वह 16 दिन जंगल में रहा, जहां उसे खाने को कुछ नहीं दिया गया। इसके बाद उसे जबरन रूस की सेना की तरफ से यूक्रेन के साथ जंग में शामिल होने को मजबूर किया। ऐसा करने से मना करने पर उसे 10 साल के लिए जेल में डालने की धमकी दी। उसने कहा कि यूक्रेन के खिलाफ युद्ध के दौरान दो भारतीयों की मौत हो गई। बता दें रूस में फंसे भारतीयों ने किसी तरह मॉस्को में भारतीय अधिकारियों से संपर्क किया था। जिसके बाद रूसी सेना में काम करने वाले कुछ लोग वापस इंडिया लौटे हैं।

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो