whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

होंठों की लिपस्टिक को न करें गालों पर इस्तेमाल, वरना खो बैठेंगे अपनी खूबसूरती!

Lipstick As Blush A Warning Sign: एक परफेक्ट फ्लश लुक के लिए, क्या आपने कभी अपनी मनपसंद गुलाबी लिपस्टिक अपने गालों और पलकों पर लगाई है? अक्सर ऐसा हैक सभी को पसंद है, लेकिन एक्सपर्ट इससे दूर रहने की सलाह क्यों देते हैं, जानें। 
09:25 AM Mar 06, 2024 IST | Deepti Sharma
होंठों की लिपस्टिक को न करें गालों पर इस्तेमाल  वरना खो बैठेंगे अपनी खूबसूरती
लिपस्टिक ब्लश का इस्तेमाल खतरनाक Image Credit: Freepik

Lipstick As Blush A Warning Sign: मेकअप करना हर किसी को पसंद है और मेकअप में भी नए-नए हैक्स ट्राई करते हैं और इसके लिए महंगे से महंगे मेकअप प्रोडक्टस खरीद लेते हैं। सभी को पसंद है जब कॉस्मेटिक प्रोडक्टस एक समय में एक से ज्यादा काम कर सकते हैं और इसी में आती है लिपस्टिक, जो एक ब्लश या आईशैडो के रूप में इस्तेमाल करते हैं।

हालांकि, ऐसा करना खतरनाक हो सकता है, क्योंकि लिपस्टिक को होंठों के लिए यूज करना चाहिए, न कि चेहरे के अन्य हिस्सों पर इस्तेमाल के लिए होती है। आपको बता दें, सभी लिपस्टिक ब्लश या आईशैडो के रूप में काम नहीं कर सकती हैं। India Today की एक छपी खबर के अनुसार, एक्सपर्ट का मानना है कि आपको लिपस्टिक जैसे ब्लश वाले पल से बचना चाहिए क्योंकि यह आपकी स्किन के लिए अच्छा नहीं है।

लिपस्टिक में क्या है?

ये प्रोडक्टस आम तौर पर मोम, तेल, पिगमेंट और इमोलिएंट्स का होता है। सामान्य सामग्रियों में मोम, कारनौबा मोम, अरंडी तेल और खनिज तेल जैसे अलग-अलग तेल शामिल हैं, कलरेंट्स, और शिया बटर या लैनोलिन जैसे मॉइस्चराइजिंग एजेंट का इस्तेमाल होता है। उनके पास स्मेल के लिए अन्य सामग्रियां भी हैं।

अगर आप ऑनलाइन चेहरे के अन्य हिस्सों पर लिपस्टिक का यूज करते हुए देखना पसंद करते हैं और इस हैक को आजमाना चाहते हैं, तो आपको एक्सपर्ट की बात अवश्य सुनें। चूंकि होंठ प्रोडक्ट में सुगंध होती है, इसलिए उन्हें पलकों पर लगाने की सलाह नहीं दी जाती है।

पलकें शरीर में सबसे पतली त्वचा से बनी होती हैं और इसलिए, सबसे अधिक सेंसिटिव होती हैं। इसके अलावा, लिपस्टिक में मौजूद तत्व जैसे पेरू का बाल्सम (Fragrance), ईओसिन डाई, मेन्थॉल या सिनामिक एसिड पलकों के डर्मेटाइटिस का कारण बन सकते हैं। एटोपिक (स्किन से जुड़ी बीमारी) वाले लोगों में जिल्द की सूजन के कारण, इन सामग्रियों को गालों पर ब्लश के रूप में इस्तेमाल करने पर प्रतिक्रिया भी हो सकती है। ब्लश या आईशैडो के रूप में होंठ प्रोडक्ट्स का उपयोग करते समय आपको सतर्क रहना चाहिए।

क्या हो सकते हैं साइड-इफेक्ट्स

जलन

होंठ उत्पादों में मौजूद तत्व, जैसे सुगंध या कुछ रंग, आंखों या गालों जैसे अधिक संवेदनशील क्षेत्रों में जलन पैदा कर सकते हैं।

एलर्जी 

अगर आपको एलर्जी है और इसका यूज करते हैं, तो एलर्जी ज्यादा बढ़ सकता हैं। जिसके परिणामस्वरूप लालिमा, खुजली या सूजन हो सकती है।

ब्रेकआउट

कुछ होंठ उत्पादों में कॉमेडोजेनिक तत्व होते हैं जो तेल ग्रंथियों वाले क्षेत्रों पर लागू होने पर छिद्रों को बंद कर सकते हैं और मुंहासे या ब्रेकआउट(फैलना) का कारण बन सकते हैं।

सूखापन

होंठों के उत्पादों में अक्सर होंठों के लिए मॉइस्चराइजिंग एजेंट होते हैं, लेकिन वे चेहरे के अन्य क्षेत्रों के लिए समान लेवल पर  हाइड्रेशन नहीं कर सकते हैं, जिससे संभावित रूप से ड्राईनेस हो सकती है।

ये भी पढ़ें- सेहत का ख्याल रखना बेहद जरूरी, वर्किंग वूमेन हो या हाउस वाइफ अपनाएं ये 7 टिप्स

Disclaimer: ऊपर दी गई जानकारी पर अमल करने से पहले डॉक्टर की राय अवश्य ले लें। News24 की ओर से कोई जानकारी का दावा नहीं किया जा रहा है। 

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो