whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

अरुणाचल प्रदेश में सेक्स रैकेट, 8 सरकारी अधिकारियों समेत 21 गिरफ्तार, बचाई गईं 5 नाबालिग लड़कियां

Arunachal Pradesh Sex Racket: अरुणाचल प्रदेश में एक सेक्स रैकेट का पर्दाफाश हुआ है। तस्करों और दलालों में 8 सरकारी अधिकारी भी शामिल हैं। 10 दिन की रेड में गिरफ्तार आरोपियों के चंगुल से 5 नाबालिग छुड़ाई गई हैं। मामले में आगे की कार्रवाई जारी है।
07:21 AM May 16, 2024 IST | Khushbu Goyal
अरुणाचल प्रदेश में सेक्स रैकेट  8 सरकारी अधिकारियों समेत 21 गिरफ्तार  बचाई गईं 5 नाबालिग लड़कियां
गुप्त सूचना के आधार पर पिछले 10 दिन से अलग-अलग इलाकों में छापामारी चल रही थी।

Arunachal Pradesh Prostitution Gang Exposed: अरुणाचल प्रदेश में इंटर स्टेट सेक्स रैकेट का पर्दाफाश हुआ है। ईटानगर पुलिस ने जिस्मफिरोशी का धंधा करने वाले 21 लोगों को गिरफ्तार किया है, जिनमें 8 सरकारी अधिकारी भी शामिल हैं। वहीं पुलिस ने 5 नाबालिग लड़कियों को भी तस्करों को चंगुल से छुड़ाया है।

लड़कियां साल 2020 से 2023 के बीच वेश्यावृत्ति के धंधे में धकेली गई थीं और इनकी उम्र 10 से 15 साल के बीच बताई जा रही है। इन लड़कियों में से 3 लड़कियां STD नामक बीमारी से संक्रमित हैं। पिछले 10 दिन से असम के धेमाजी, उदलगुरी और चिम्पू में पुलिस की छापेमारी जारी थी। चिम्पू में तेची रीना उर्फ अनिया और जमलो तागुंग के घर छापा मारकर पुलिस ने वेश्यावृत्ति गिरोह का पर्दाफाश किया।

यह भी पढ़ें:जो भतीजी गोद में पाली, बड़ी हुई तो गंदी नजर डाली, यमुनानगर में मौत, कातिल चाचा गिरफ्तार

ब्यूटी पार्लर की आड़ में चल रहा सेक्स रैकेट

ईटानगर पुलिस अधीक्षक (SP) रोहित राजबीर सिंह ने मामले की पुष्टि की। उन्होंने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली थी कि ईटानगर के चिम्पू में 2 बहनें पुष्पांजलि मिलि उर्फ ​​टूटू मिलि और पूर्णिमा मिलि ब्यूटी पार्लर की आड़ में जिस्मफिरोशी का धंधा करती हैं। वे असम के धेमाजी से नाबालिग लड़कियों को लाकर उनसे धंधा कराती हैं।

नौकरी और अच्छी जिंदगी का आश्वासन परिवारों को देकर वे लड़कियों को लाती हैं और धंधा कराती हैं। पुलिस ने गत 4 मई को ब्यूटी पार्लर और दोनों बहनों के घर छापेमारी की। इस दौरान 2 नाबालिग लड़कियों को रेस्क्यू किया गया, जिन्होंने बताया कि आरोपी महिलाएं उन्हें बहाने से असम से लेकर आई हैं और धंधा कराती हैं। दोनों की शिकायत पर ईटानगर महिला पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया।

यह भी पढ़ें:नोएडा में 15 साल बड़ी लिव इन पार्टनर की हत्या, जिसके लिए पत्नी को छोड़ा, उसके धोखे ने बताया कातिल

पूछताछ में सामने आए अधिकारियों के नाम

SP रोहित के अनुसार, बाल कल्याण समिति (CWC) को भी मामला बताया गया। वहीं जांच और पूछताछ के बाद पता चला कि आरोपी महिलाओं की गिरफ्त में 2 और नाबालिग लड़कियां हैं। टेची और जामलो नामक 2 दलाल इन दोनों महिलाओं के लिए काम करते हैं। चिम्पू में ही तेची रीना उर्फ ​​​​अनिया और जमलो तागुंग के घर में भी लड़कियां ग्राहकों को सप्लाई की जाती हैं।

वेश्यालय से छुड़ाई गई नाबालिग लड़कियों को आश्रय गृह में भेजा गया है। 11 मई को चिम्पू में चिड़िया घर रोड पर एक लॉज में रेड मारकर नाबालिग लड़की बरामद की गई। पूछताछ में कई सरकारी अधिकारियों के नाम भी सामने आए, जिन्हें पुलिस ने एक्शन लेते हुए उनके घरों से दबोच लिया। पिछले 10 दिन में करीब 21 दलाल और तस्कर गिरफ्तार हो चुके हैं।

यह भी पढ़ें:दिग्गज क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के सिक्योरिटी गार्ड ने की आत्महत्या, जांच में जुटी पुलिस

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो