whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

आख‍िर कैसे ट्रैक पर खड़ी ट्रेन पर चढ़ गई मालगाड़ी? अब तक 15 मौत, न‍िशाने पर सरकार, जानें 5 बड़ी अपडेट

Kanchenjunga Express Accident: पश्चिम बंगाल के न्यू जलपाईगुड़ी में ट्रै्क पर खड़ी कंचनजंगा एक्सप्रेस को पीछे से आ रही मालगाड़ी ने टक्कर मार दी। इस हादसे में अब तक 15 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि 60 लोग घायल बताए जा रहे हैं। वहीं रेल मंत्री अश्विनी वैषणव घटनास्थल के लिए रवाना हो चुके हैं।
02:08 PM Jun 17, 2024 IST | Rakesh Choudhary
आख‍िर कैसे ट्रैक पर खड़ी ट्रेन पर चढ़ गई मालगाड़ी  अब तक 15 मौत  न‍िशाने पर सरकार  जानें 5 बड़ी अपडेट
जानें क्यों और कैसे हुआ हादसा?

Kanchenjunga Express Accident: पश्चिम बंगाल के न्यू जलपाई गुड़ी रेल हादसे में अब तक 15 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि 60 से अधिक लोग घायल बताए जा रहे हैं। जानकारी के अनुसार आज सुबह करीब 9 बजे मालगाड़ी ने कोलकाता के सियालदाह जा रही कंचनजंगा एक्सप्रेस को मालगाड़ी ने टक्कर मार दी। जिस समय हादसा हुआ हुआ उस समय एक्सप्रेस ट्रेन ट्रैक पर खड़ी थी। हादसा इतना भयंकर था ट्रेन की 3 बोगियां पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई।

प्रारंभिक जांच में दुर्घटना का कारण सिग्नलिंग सिस्टम में दिक्कत बताई जा रही है। फिलहाल रेलवे पुलिस, राज्य पुलिस और प्रशासन की टीमें घटना की जांच कर रही हैं। हादसे के बाद रेलवे ने हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए हैं। वहीं रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव भी घटनास्थल के लिए रवाना हो चुके हैं। रेलवे ने घायलों और मृतकों के आश्रितों के लिए मुआवजे का ऐलान किया है। यहां पढ़ें हादसे जुड़े 5 बड़े अपडेट्स

हादसे का प्रारंभिक कारण आया सामने

1. रेलवे बोर्ड की सीईओ और चेयरमैन जया सिन्हा ने बताया कि मालगाड़ी के चालक ने सिग्नल की अनदेखी की और ट्रैक पर खड़ी एक्सप्रेस ट्रेन को टक्कर मार दी। हादसे में  मालगाड़ी के लोको पायलट, असिस्टेंट लोको पायलट और कंचनजंगा एक्सप्रेस के गार्ड की मौत हो गई है। हादसे में घायल यात्रियों को सिलीगुड़ी मेडिकल काॅलेज में भर्ती करवाया गया है। फिलहाल रेस्क्यू ऑपरेशन खत्म हो चुका है।

हादसे के बाद विपक्ष ने उठाए सवाल

2. हादसे के बाद कांग्रेस ने भी सवाल उठाए हैं। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी में कंचनजंगा एक्सप्रेस ट्रेन दुर्घटना से अत्यंत व्यथित हूं, जिसमें कई लोगों की जान चली गई और कई घायल हो गए। दुर्घटना के दृश्य दर्दनाक हैं। हम पीड़ितों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हैं। पिछले 10 वर्षों में, मोदी सरकार ने रेल मंत्रालय के घोर कुप्रबंधन में लिप्त रही है। एक जिम्मेदार विपक्ष के रूप में, यह रेखांकित करना हमारा परम कर्तव्य है कि कैसे मोदी सरकार ने व्यवस्थित रूप से रेल मंत्रालय को 'कैमरा-संचालित' आत्म-प्रचार के मंच में बदल दिया है!

खड़गे ने कहा कि आज की त्रासदी इस कठोर वास्तविकता की एक और याद दिलाती है। कोई गलती न करें, हम अपने सवालों के साथ दृढ़ रहेंगे और मोदी सरकार को भारतीय रेलवे के आपराधिक परित्याग के लिए जवाबदेह ठहराएंगे।

ओवरस्पीड ओर ओवरलोड थी मालगाड़ी

3. जांच में सामने आया है कि मालगाड़ी ओवरलोड होने के साथ ही ओवरस्पीड में भी थी। इसी कारण जब मालगाड़ी आकर टकराई तो उसका इंजन एक्सप्रेस ट्रेन की बोगियों के नीचे घुस गया। हादसे का मंजर डरा देने वाला था।

मृतकों के आश्रितों को मुआवजे का ऐलान

4. हादसे में मारे गए मृतकों के आश्रितों को पीएम रिलीफ फंड से 2 लाख रुपए और घायलों को 50 हजार रुपए का मुआवजा दिया गया है। जबकि रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने मृतकों के आश्रितों के लिए 10 लाख रुपए के मुआवजे का ऐलान किया है।

5. हादसे के बाद रेलव पुलिस और प्रशासन की टीमें मौके पर पहुंची और राहत कार्य में जुटी। फिलहाल हादसे में मारे गए लोगों की पहचान की जा रही है। हादसा इतना भयंकर था कि ट्रेन में फंसे यात्रियों को गैस कटर से बोगियां काटने के बाद बाहर निकाला गया। कुछ पैसेंजर ट्रैक के बीच में भी फंस गए थे।

ये भी पढ़ेंः ‘अचानक से बहुत तेज आवाज हुई…’ लोगों ने बयां की रोंगटे खड़े कर देने वाली रेल हादसे की कहानी

ये भी पढ़ेंः हवा में उछल गए, एक दूसरे पर चढ़ गए ट्रेन के डिब्बे; रेल हादसे की डरावनी तस्वीरें आईं सामने

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो