whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

0.001% भी लापरवाही हुई है तो...बच्‍चों की मेहनत नहीं भूल सकते, NEET मामले पर सुप्रीम कोर्ट के कड़े तेवर

NEET 2024 Controversy Latest Update: सुप्रीम कोर्ट ने आज भी नीट विवाद से जुड़ी याचिकाओं पर सुनवाई की और NTA को नोटिस जारी किया। जवाब देने के लिए 2 हफ्ते का समय दिया गया है। वहीं बेंच ने कड़े तेवर दिखाते हुए सख्ती टिप्पणी भी की।
11:49 AM Jun 18, 2024 IST | Khushbu Goyal
0 001  भी लापरवाही हुई है तो   बच्‍चों की मेहनत नहीं भूल सकते  neet मामले पर सुप्रीम कोर्ट के कड़े तेवर
सुप्रीम कोर्ट में आज नीट विवाद से जुड़ी नई याचिकाओं पर सुनवाई हुई।

Supreme Court Hearing on NEET Controversy: सुप्रीम कोर्ट में आज फिर NEET विवाद से जुड़ी याचिका पर सुनवाई हुई। NEET की परीक्षा दोबारा कराए जाने की मांग वाली नई याचिकाएं सुप्रीम कोर्ट पहुंची हैं। इन पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने NTA को नोटिस जारी किया है। 8 जुलाई तक जवाब देने के निर्देश हैं।

आज जिन याचिकाओं पर सुनवाई हुई, उन पर भी अब 8 जुलाई को ही सुनवाई होगी। वहीं विवाद पर एक बार फिर सुप्रीम कोर्ट ने कड़े तेवर दिखाते हुए अहम टिप्पणी की। सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार और NTA से कहा कि अगर किसी की ओर से 0.001% भी लापरवाही हुई है तो उससे पूरी तरह निपटा जाना चाहिए। बच्चों ने परीक्षा की तैयारी की है, हम उनकी मेहनत को नहीं भूल सकते।

यह भी पढ़ें:रोती-बिलखती महिलाएं, फूटे सिर बहता खून…ट्रेन हादसे की दर्दनाक आंखोंदेखी, ड्राइवर नहीं तो कौन जिम्मेदार?

8 जुलाई को 24 लाख बच्चों का भविष्य तय होगा

बता दें कि NEET 2024 का पेपर लीक होने के आरोप लगे हैं। रिजल्ट जारी करने में गड़बड़ करने के आरोप भी लगे हैं। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी कठघरे में हैं। पेपर लीक कराने वाले गिरोह पकड़े जा रहे हैं। 30-30 लाख लेकर पेपर बेचने के सुराग पुलिस के हाथ लगे हैं। 67 बच्चों के 720 में से 720 नंबर देखकर सवाल उठाए गए। पेपर रद्द करने और मामले की जांच करने की मांग करते हुए सुप्रीम कोर्ट में इंसाफ की गुहार लगाई गई।

सुप्रीम कोर्ट ने मामले की गंभीरता को देखते हुए केंद्र सरकार और NTA को नोटिस जारी किए, लेकिन पेपर रद्द करने और काउंसिलिंग पर रोक लगाने से इनकार कर दिया। अब 8 जुलाई को मामले में फैसला आएगा। पेपर देने वाले करीब 24 लाख स्टूडेंट्स का भविष्य तय किया जाएगा।

यह भी पढ़ें:भारत-पाकिस्तान और चीन…किसके पास किससे ज्यादा परमाणु हथियार? SIPRI की रिपोर्ट में खुलासा

राजस्थान हाईकोर्ट में भी दायर की गई याचिका

बता दें कि NEET-UG एग्जाम पेपर रद्द करने की मांग करते हुए 4 याचिकाएं सुप्रीम कोर्ट में दायर की जा चुकी हैं। 4 दिन पहले भी एक याचिका आई, जिसमें पेपर रद्द करके CBI से घोटाले की जांच कराने की मांग की गई। वहीं दिल्ली हाईकोर्ट समेत देशभर की गई हाईकोर्ट में 7 याचिकाएं दायर की गईं।

सुप्रीम कोर्ट ने सभी हाईकोर्ट को NEET विवाद से जुड़ी याचिकाएं सुप्रीम कोर्ट ट्रांसफर करने को कहा है। राजस्थान हाईकोर्ट में भी एक याचिका दायर हुई है, जो तनुजा यादव नामक छात्रा ने दायर की है। इसमें तनुजा ने एग्जाम पेपर आधा घंटा लेट दिए जाने, पेपर पूरा करने का समय और ग्रेस मार्क्स नहीं देने की शिकायत की है।

यह भी पढ़ें:गजब! एक महीने में MBBS की डिग्री मिल गई; न पढ़ाई न परीक्षा और…गुजरात का मामला, UP से कनेक्शन

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो