whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

अमृतसर में शराब की अवैध फैक्ट्री पर एक्साइज एंड टैक्सेशन डिपार्टमेंट की बड़ी कार्रवाई; मंत्री हरपाल चीमा ने कहा-किसी को नहीं बख्शा जाएगा

06:56 PM Sep 08, 2023 IST | Balraj Singh
अमृतसर में शराब की अवैध फैक्ट्री पर एक्साइज एंड टैक्सेशन डिपार्टमेंट की बड़ी कार्रवाई  मंत्री हरपाल चीमा ने कहा किसी को नहीं बख्शा जाएगा

चंडीगढ़: पंजाब के वित्त, योजना, आबकारी और कराधान मंत्री एडवोकेट हरपाल सिंह चीमा ने शुक्रवार को अमृतसर जिले में स्कॉच व्हिस्की के अवैध ढंग से निर्माण और बिक्री के बारे में जानकारी सांझा की है। उन्होंने बताया कि अवैध धंधे के संबंध में खुफिया जानकारी मिलने के बाद आबकारी और कराधान विभाग ने 6 सितम्बर की रात को एक अहम ऑपरेशन के दौरान इस धंधे में शामिल राजवीर सिंह (मुख्य आरोपी) और उसके साथी शिवम को गिरफ्तार किया है। इस अवैध फैक्ट्री से स्कॉच व्हिस्की की 10 पेटियां जब्त की गई हैं। इसके अलावा मंत्री चीमा ने प्रदेश में अवैध धंधे करने वालों को कड़ी कार्रवाई की चेतावनी देते हुए कहा कि शराब की ढुलाई पर विभाग द्वारा पैनी नजर रखी जा रही है। ऐसे किसी भी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा।

  • फैक्ट्री से स्कॉच व्हिस्की की 10 पेटियां जब्त करने के साथ राजवीर सिंह और शिवम नामक दो आरोपियों को किया गया गिरफ्तार

  • खासा डिस्टिलरी और बोटलिंग प्लांट का कर्मचारी शिवम ने खाली बोतलें, ढक्कन, लेबल और स्कॉच व्हिस्की के तैयार मिश्रण चुराने में मदद की

आबकारी और कराधान मंत्री हरपाल सिंह चीमा ने बताया कि विभाग को अपने खुफिया नेटवर्क के द्वारा अमृतसर जिले और इसके आसपास स्कॉच व्हिस्की खास तौर पर एक ब्रांड के अवैध उत्पादन और बिक्री सम्बन्धी सूचना मिली थी। तेजी से कार्रवाई करते हुए वित्त कमिश्नर कराधान विकास प्रताप और आबकारी कमिश्नर वरुण रुज्म की सीधी निगरानी में विभाग के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (SOG) ने इन अवैध गतिविधियों में शामिल संदिग्ध व्यक्तियों और क्षेत्रों की व्यापक निगरानी और पड़ताल की।

मुख्य आरोपी की निशानदेही पर तुरंत हुई कार्रवाई

और ज्यादा खुलासा करते हुए चीमा ने बताया कि स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप ने 10 पेटी अवैध स्कॉच व्हिस्की के साथ गिरफ्तार किए गए इस यूनिट के संचालक राजवीर सिंह को अमृतसर ग्रामीण पुलिस के हवाले कर दिया गया। पूछताछ में उसने अपने दो साथियों शिवम और जसपाल की शमूलियत का खुलासा किया, जो अमृतसर में स्थित खासा डिस्टिलरी और बोटलिंग प्लांट से शराब बनाने के लिए जरूरी कच्चे माल की सप्लाई करते थे। गिरफ्तार की निशानदेही पर उसी रात खासा डिस्टिलरी पर छापा मारकर डिस्टिलरी के मुलाजिम शिवम  को गिरफ्तार कर लिया। अभी तक की जांच में पता चला है कि शिवम ने प्लांट से खाली बोतलें, ढक्कन, लेबल और स्कॉच व्हिस्की के तैयार मिश्रण की चोरी में मदद की।

ये भी पढ़ें

तैराक भेजकर 50 KG हेरोइन हासिल करने वाले काली को पंजाब पुलिस ने किया काबू; नशे की अब तक इतनी खेप हुई बरामद

महिला SP ने किया डॉक्टर ननद के बेटे पर कब्जा; हाईकोर्ट भी नहीं दिला सका वापस, वजह आप भी जरूर जानें

G-20 समिट भारत में होने पर भड़के खालिस्तानी, कनाडा में मंदिर की दीवार पर लिखा- PM नरेंद्र मोदी आतंकी

घरिंडा थाने में FIR दर्ज

चीमा ने कहा कि फिलहाल आरोपियों के खिलाफ भादंसं (IPC) धारा 420, 379, 120बी और आबकारी एक्ट में घरिंडा पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज की गई है। मामले से सम्बन्धित दूसरे पहलुओं का पर्दाफाश करने के लिए विभाग द्वारा गहराई से जांच की जा रही है। इसी के साथ मंत्री चीमा ने कहा कि अवैध शराब का उत्पादन जन सुरक्षा के लिए एक बड़ा खतरा है और इसके नतीजे के तौर पर सरकार को भारी वित्तीय नुकसान हो रहा है। मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार राज्य के लोगों की सेहत और सुरक्षा यकीनी बनाने के साथ-साथ सरकारी राजस्व को नुकसान पहुंचाने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई के लिए वचनबद्ध है।

(https://www.ebsta.com/)

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो