whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

21000 करोड़ का मुंद्रा पोर्ट ड्रग्स मामला क्या है, जिसका आरोपी पुलिस कस्टडी से हुआ फरार

Mundra Port Drugs Case: पंजाब के अमृतसर में 21000 करोड़ रुपये के ड्रग्स मामले का आरोपी पुलिस कस्टडी से फरार हो गया। उसे गुजरात के कच्छ से पेशी के लिए अमृतसर लाया गया था। फिलहाल, पुलिस उसकी तलाश में जुटी हुई है। आरोपी का नाम जोबनजीत सिंह संधू है। वह भुज जेल में बंद था।
11:34 PM Feb 18, 2024 IST | Achyut Kumar
21000 करोड़ का मुंद्रा पोर्ट ड्रग्स मामला क्या है  जिसका आरोपी पुलिस कस्टडी से हुआ फरार
21000 करोड़ के मुंद्रा पोर्ट ड्रग्स मामला का आरोपी पुलिस कस्टडी से फरार

Rs 21000 Crore Mundra Port Drugs Case: पंजाब के अमृतसर से चौंकाने वाली खबर सामने आ रही है। यहां 21000 करोड़ रुपये के मुंद्रा पोर्ट ड्रग्स मामले का आरोपी पुलिस कस्टडी से फरार हो गया है। उसने कोर्ट में पेशी के दौरान ले जाते समय पुलिस को चकमा दिया। उसे गुजरात के कच्छ से अमृतसर ले आया जा रहा था।

कच्छ से लौटते समय पुलिस कस्टडी से फरार हुआ आरोपी

मामले में पश्चिमी कच्छ के पुलिस अधीक्षक महेंद्र बगड़िया ने बताया कि आरोपी का नाम जोबनजीत सिंह संधू है। वह भुज की जेल में बंद था। उसे एक अन्य मामले में अमृतसर की अदालत में पेश किया गया, जहां से वापस कच्छ लौटते समय वह पुलिस कस्टडी से फरार हो गया। फिलहाल, उसका पता लगाने के लिए स्थानीय पुलिस की मदद से तलाशी अभियान शुरू किया गया है। उसे पकड़ने का प्रयास जारी है।

मुंद्रा पोर्ट मामला क्या है?

मुंद्रा पोर्ट गुजरात में है। यहां 2021 में 2988 किलोग्राम हेरोइन जब्त की गई थी, जिसकी अनुमानित कीमत 21000 करोड़ रुपये आंकी गई। यह ड्रग्स आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा में रजिस्टर्ड एक कंपनी ने मंगाई थी। जांच के दौरान पता चला कि ड्रग्स अफगानिस्तान में तैयार किया गया था। इसे ईरान के बंदर अब्बा पोर्ट के रास्ते मुंद्रा पोर्ट लाया गया था। इस पर एजेंसियों ने दिल्ली, अहमदाबाद, मांडवी, गांधीधाम और चेन्नई में कई परिसरों पर छापेमारी की गई।

यह भी पढ़ें: कौन हैं चंडीगढ़ के मेयर मनोज सोनकर, सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई से पहले इस्तीफे की अटकलें तेज

कई लोग गिरफ्तार

पुलिस ने ट्रेडिंग कंपनी के मालिक एम सुधाकर और उनकी पत्नी समेत कई लोगों को गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में 7 फर्मों और 42 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

यह भी पढ़ें: कौन था गैंगस्टर गुरमीत सिंह उर्फ काला धनौला, जिसे AGTF ने एनकाउंटर में किया ढेर

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो