whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

शमशान पर खोला कार्यालय, अर्थी पर करेंगे प्रचार, गोरखपुर में 'अर्थी बाबा' लड़ेंगे लोकसभा चुनाव

Arthi Baba Gorakhpur Candidate 2024: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर से एक निर्दलीय प्रत्याशी भी मैदान में हैं, जिन्हें सब अर्थी बाबा के नाम से पहचानते हैं। अर्थी पर बैठकर चुनाव प्रचार करने और नामांकन भरने वाले राजन यादव ने शमशान घाट पर लोकसभा कार्यालय खोला है।
04:56 PM May 11, 2024 IST | Sakshi Pandey
शमशान पर खोला कार्यालय  अर्थी पर करेंगे प्रचार  गोरखपुर में  अर्थी बाबा  लड़ेंगे लोकसभा चुनाव
Arthi baba gorakhpur lok sabha election 2024

Arthi Baba Gorakhpur UP Lok Sabha Election 2024: लोकसभा चुनाव में बड़ी पार्टियों के अलावा कई निर्दलीय प्रत्याशी भी सुर्खियां बटोर रहे हैं। इस फेहरिस्त में एक नाम राजन यादव का भी है, जिन्हें लोग अर्थी बाबा के नाम से भी जानते हैं। गोरखपुर के राजघाट पर डेरा जमाने वाले अर्थी बाबा ने शमशान घाट पर ही अपना कार्यालय खोल लिया है।

अर्थी पर करते हैं प्रचार

चुनावी माहौल के बीच गोरखपुर के राजघाट शमशान घाट पर कार्यालय बनाने वाले अर्थी बाबा उर्फी राजन यादव का कहना है कि जो भी इस शमशान घाट पर लाश जलाने आते हैं वो 1 रुपया चंदा देते हैं। उसी पैसे से मैं पर्चा दाखिल करता हूं। अर्थी पर बैठकर मैं नामांकन और प्रचार भी करता हूं। अर्थी और शमशान घाट लोकतंत्र का जनाजा है। क्योंकि लोकतंत्र की मौत हो चुकी है। सारे भ्रष्ट नेता चुनाव लड़ रहे हैं। इसीलिए मैं ये अर्थी निकालता हूं।

रवि किशन और काजल निषाद पर बोले

अर्थी बाबा का कहना है कि इसी घाट पर बैठकर मैंने अनशन किया तो गोरखपुर में AIIMS बना और जब माननीय मुख्यमंत्री योगी जी यहां आए तो मैंने उनसे पक्का घाट बनवाने का आग्रह किया और उन्होंने बनवा दिया। विपक्षी उम्मीदवारों पर बात करते हुए अर्थी बाबा ने कहा कि रवि किशन और काजल निषाद यहां से चुनाव लड़ रहे हैं। मगर वास्तव में वो लोग यहां के नहीं हैं। उन्हें गोरखपुर के लोगों का संघर्ष नहीं पता है।

एक्टर नहीं समझते समस्या

बीजेपी उम्मीदवार रवि किशन पर बात करते हुए अर्थी बाबा ने कहा कि रवि किशन यहां के बारे में कुछ नहीं जानते। अगर उनसे पूछा जाए तो वो यहां कि समस्याएं नहीं बता सकते हैं। फिल्म का हीरो आम जनता की मुश्किलें नहीं समझ सकता। काजल निषाद भी एक्टर रही हैं। वो रियल के नेता नहीं हैं। मगर मैं रियल का नेता हूं। इसीलिए दोनों लोग हारेंगे।

कई बार लड़ चुके हैं चुनाव

चुनाव लड़ने पर बात करते हुए अर्थी बाबा ने कहा कि मैंने 4 बार विधायकी का चुनाव लड़ा है। 3-4 बार एमएलसी, 3-4 बार संसदीय चुनाव में भी उतर चुका हूं। यही नहीं मैंने यहां से राष्ट्रपति का चुनाव भी लड़ा है। हालांकि मुझे आज तक चुनाव में जीत नहीं मिली है। लेकिन एक दिन मैं जरूर जीतूंगा। जिस दिन मैं जीतूंगा उस दिन पूरा देश मेरे साथ होगा और एक नई क्रांति होगी।

गोरखपुर लोकसभा चुनाव 2024

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर सीट पर आखिरी चरण में 1 जून को चुनाव होंगे। बता दें कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने भोजपुरी नेता रवि किशन को मैदान में उतारा है तो इंडिया गठबंधन की सपा प्रत्याशी काजल निषाद उम्मीदवार बनी हैं। ऐसे में देखना दिलचस्प होगा कि सीएम योगी आदित्यनाथ के गढ़ में गोरखपुर की जनता किस नेता पर मुहर लगाएगी।

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो