whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

उत्तराखंड की इस सीट पर दो पूर्व CM आमने-सामने, क्या बेटा संभाल पाएगा पिता की विरासत?

Haridwar Lok Sabha Election 2024: उत्तराखंड की हरिद्वार सीट हाई-प्रोफाइल सीट बन गई है। यहां से पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत के सामने पूर्व सीएम हरीश रावत के बेटे की चुनौती है। बीजेपी की निगाह इस सीट पर जीत की 'हैट्रिक' लगाने पर टिकी हुई है, जबकि कांग्रेस 2009 के बाद पहली जीत के लिए पूरी कोशिश कर रही है। देखें, यह खास रिपोर्ट...
12:59 PM Apr 02, 2024 IST | Achyut Kumar
उत्तराखंड की इस सीट पर दो पूर्व cm आमने सामने  क्या बेटा संभाल पाएगा पिता की विरासत
Haridwar Lok Sabha Election 2024: हरिद्वार में कोई भी जीते, जीत तो 'रावत' की ही होगी

Haridwar Lok Sabha Election 2024: लोकसभा चुनाव 2024 के दंगल के लिए धर्मनगरी हरिद्वार तैयार हो चुकी है। यहां से इस बार दो पूर्व सीएम आमने-सामने हैं। इनके नाम त्रिवेंद्र सिंह रावत और हरीश रावत है। हरीश हरिद्वार के पूर्व सांसद भी रह चुके हैं। इस बार इस सीट से कांग्रेस ने उनके बेटे वीरेंद्र रावत को चुनावी मैदान में उतारा है। वहीं, बीजेपी ने पूर्व केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल का टिकट काटकर त्रिवेंद्र सिंह रावत को मौका दिया। इस सीट पर लगातार दो बार से बीजेपी जीतती आ रही है।

वीरेंद्र रावत के सामने पिता की विरासत को आगे बढ़ाने की चुनौती

वीरेंद्र रावत के सामने पिता हरीश रावत की विरासत को आगे बढ़ाने की चुनौती है। इस सीट से 2009 में हरीश सांसद चुने गए थे। उन्होंने बीजेपी के यतींद्रानंद गिरी को 1,27,412 मतों से हराया था। हरीश रावत को 3,32,235, जबकि यतींद्रानंद गिरि को 2,04,823 वोट मिले।

बीजेपी लगा पाएगी जीत की हैट्रिक?

बीजेपी की निगाहें इस बार हरिद्वार से जीत की हैट्रिक लगाने पर टिकी हुई हैं। यहां से पिछली बार रमेश पोखरियाल ने कांग्रेस के अंबरीश कुमार को 2,58,729 वोटों से हराकर लोकसभा पहुंचे थे। रमेश को 6,65,674, जबकि अंबरीश कुमार को 4,06,945 वोट मिले थे। वहीं, 2014 में रमेश ने कांग्रेस की रेणुका रावत को 1,77,822 वोटों से हराकर जीत दर्ज की थी। उन्हें 5,92,320, जबकि रेणुका को 4,14,498 वोट मिले।

हरिद्वार से कब कौन बना सांसद?

सालसांसदपार्टी
1977भगवान दास राठौड़जनता पार्टी
1980जगपाल सिंहजनता पार्टी (सेक्युलर)
1984सुंदर लालकांग्रेस
1987राम सिंह मंडेबासकांग्रेस
1989जगपाल सिंहकांग्रेस
1991राम सिंह मंडेबासबीजेपी
1996हरपाल सिंह साथीबीजेपी
1998हरपाल सिंह साथीबीजेपी
1999हरपाल सिंह साथीबीजेपी
2004राजेंद्र कुमार बाड़ीसपा
2009हरीश रावतकांग्रेस
2014रमेश पोखरियालबीजेपी
2019रमेश पोखरियालबीजेपी

हरिद्वार से कौन-कौन चुनावी मैदान में?

हरिद्वार से बीजेपी ने त्रिवेंद्र सिंह रावत, कांग्रेस ने वीरेंद्र रावत और बहुजन समाज पार्टी ने जमील अहमद को प्रत्याशी बनाया है। वहीं, उमेश कुमार निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे। वे इस समय खानपुर संसदीय क्षेत्र से प्रत्याशी हैं।

यह भी पढ़ें: एक उम्मीदवार, जिसे हारना पसंद… अटल-आडवाणी के खिलाफ भी लड़ चुका चुनाव; अब 239वीं बार फिर चुनावी मैदान में

हरिद्वार संसदीय क्षेत्र में कौन-कौन सी विधानसभा सीटें शामिल हैं?

हरिद्वार संसदीय क्षेत्र में 14 विधानसभा सीटें शामिल हैं। इनमें धरमपुर, डोईवाला, ऋषिकेश, हरिद्वार, बीएचईएल रानीपुर, ज्वालापुर (SC), भगवानपुर (SC), झबरेड़ा (SC), पिरान कलियर, रुड़की, खानपुर, मंगलौर, लक्सर और हरिद्वार ग्रामीण सीट शामिल है।

यह भी पढ़ें: Nawada Lok Sabha Election 2024: बीजेपी को इस सीट पर सिर्फ 4 बार मिली जीत, क्या 2024 में RJD खत्म करेगी 20 साल का सूखा?

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो