whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

मुख्तार अंसारी को क्या जेल में दिया जा रहा था जहर? भाई ने जताई हत्या की आशंका

Mukhtar Ansari Banda Jail: माफिया मुख्तार अंसारी की बांदा जेल में अचानक तबीयत बिगड़ गई, जिसके बाद उसे बेहद गंभीर हालत में रानी दुर्गावती मेडिकल कॉलेज बांदा में आईसीयू वार्ड में भर्ती कराया गया है। इस मामले में पुलिस, जेल और अस्पताल प्रशासन ने चुप्पी साध ली है।
08:11 AM Mar 26, 2024 IST | Achyut Kumar
मुख्तार अंसारी को क्या जेल में दिया जा रहा था जहर  भाई ने जताई हत्या की आशंका
Mukhtar Ansari को आधी रात आईसीयू में क्यों कराया भर्ती?

Mukhtar Ansari Banda Jail: माफिया मुख्तार अंसारी की बांदा जेल में अचानक तबीयत बिगड़ गई, जिसके बाद उसे आधी रात को रानी दुर्गावती मेडिकल कॉलेज के आईसीयू वार्ड में भर्ती कराया गया है। फिलहाल, उसकी हालत गंभीर है। वहीं, पुलिस प्रशासन ने मेडिकल कॉलेज के आईसीयू जोन को पूरी तरह से छावनी में तब्दील कर दिया है। भाई अफजाल अंसारी ने मुख्तार की हत्या की आशंका जताई है। उन्होंने मुख्तार को किसी अन्य जेल में स्थानांतरित करने की मांग की है।

मामले पर जिला प्रशासन और पुलिस ने साधी चुप्पी

जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन और जेल प्रशासन के सभी जिम्मेदार इस मामले में पूरी तरह से चुप्पी साधे हुए हैं। मुख्तार अंसारी की सुरक्षा व्यवस्था में लापरवाही को लेकर दो दिन पूर्व ही शासन ने एक जेलर और दो डिप्टी जेल को निलंबित किया था। मुख्तार ने जज को लिखे अपने प्रार्थना पत्र में कहा था कि उसे 19 मार्च को जो खाना दिया गया था, उसे खाने के बाद उसकी तबीयत बिगड़ गई है।

मुख्तार अंसारी ने स्लो प्वाइजन देने का लगाया था आरोप

अपनी वर्चुअल पेशी में माफिया मुख्तार अंसारी ने न्यायालय में जेल प्रशासन पर स्लो प्वाइजन देने का आरोप लगाया था। पिछले तकरीबन एक हफ्ते से लगातार मुख्तार अंसारी की तबीयत खराब चल रही थी। रात में ज्यादा सीरियस होने पर गुपचुप तरीके से मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया। सूत्रों के मुताबिक मुख्तार अंसारी के भाई अफजाल अंसारी और परिवार दोपहर तक बांदा पहुंच जाएगा।

यह भी पढ़ें:  Mukhtar Ansari: बांदा जेल में बंद माफिया मुख्तार की मदद करने वाले जेलर वीरेंद्र वर्मा सस्पेंड, जांच में हुआ ये खुलासा

जेल अधीक्षक ने मेडिकल कॉलेज को लिखा था लेटर

बताया जाता है कि जेल अधीक्षक ने मुख्तार अंसारी को लेकर बांदा मेडिकल कॉलेज को एक लेटर लिखा था। इसमें मुख्तार को मेडिकल सुविधाएं मुहैया कराने के लिए कहा गया था। वहीं, जब मेडिकल कॉलेज की टीम जेल पहुंचे तो डॉक्टरों ने देखा कि उसकी तबीयत बहुत ज्यादा खराब है। इसके बाद उसे मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया, जहां वह आईसीयू में है।

यह भी पढ़ें: जनता तो छोड़िए, खुद का भी नहीं मिला वोट; कौन है यह उम्मीदवार?

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो