whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

Explainer: क्या कम हो रही है दुनिया की आबादी? चीन-फ्रांस जैसे देशों की जन्म दर में आई गिरावट

Is World Population Declining In Hindi: साल 2023 में चीन और फ्रांस जैसे बड़े देशों की जन्म दर कम रही। ऐसे देशों के सामने जनसंख्या संकट लगातार गहराता जा रहा है।
09:14 PM Jan 17, 2024 IST | Gaurav Pandey
explainer  क्या कम हो रही है दुनिया की आबादी  चीन फ्रांस जैसे देशों की जन्म दर में आई गिरावट
Representative Image (Pexels)

Is World Population Declining In Hindi : चीन की आबादी में लगातार दूसरे साल गिरावट दर्ज की गई है। इसने दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाले देश के भविष्य के विकास को लेकर चिंता पैदा कर दी है। बुधवार को जारी डाटा के अनुसार साल 2023 के समाप्त होने तक चीन की जनसंख्या 140 करोड़ 90 लाख थी। यह आंकड़ा साल 2022 के मुकाबले 20.80 लाख कम है।

ऐसी स्थिति का सामना करने वाला चीन अकेला देश नहीं है। फ्रांस की जन्म दर भी 2023 में कम हुई। यहां के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ स्टेटिस्टिक्स एंड इकोनॉमिक स्टडीज ने मंगलवार को कहा था कि साल 2023 के दौरान देश में 6.78 लाख बच्चों का जन्म हुआ था। रिपोर्ट्स के अनुसार यह संख्या साल 1946 के बाद से सबसे कम है। इनके अलावा जापान और दक्षिण कोरिया भी जनसंख्या संकट से जूझ रहे हैं।

चीन की जन्म दर में गिरावट आने का कारण क्या

चीन कई दशकों से कम होती जन्म दर का गवाह बना हुआ है। विशेषज्ञों के अनुसार चीन में ऐसा होने के कारण कोविड-19 वैश्विक महामारी, देश के आर्थिक मुद्दे और बढ़ती महंगाई हैं। एक समय में चीन दुनिया में सबसे अधिर आबादी वाला देश था लेकिन संयुक्त राष्ट्र के अनुमान के अनुसार पिछले साल भारत की जनसंख्या चीन से ज्यादा हो गई थी। चीन ने 1980 के दशक में विवादित वन चाइल्ड पॉलिसी लागू की थी।

2015 में चीन ने खत्म की थी वन चाइल्ड पॉलिसी

गिरती जनसंख्या की स्थिति सुधारने के लिए शी जिनपिंग की सरकार ने साल 2015 में यह नीति समाप्त कर दी थी। इसके साथ लोग ज्यादा बच्चे पैदे करें इसके लिए सब्सिडी जैसे कदम भी उठाए गए थे। लेकिन इन कोशिशों का कुछ खास असर देखने को नहीं मिला है। बीबीसी की एक रिपोर्ट के अनुसार बीजिंग में रहने वाली वांग चेंगयी कहती हैं कि हम चाहते हैं कि हमारा बच्चा हो लेकिन हम उसका खर्च नहीं उठा सकते।

दक्षिण कोरिया और जापान भी संकट की जद में

दुनिया में सबसे कम जन्म दर दक्षिण कोरिया की है। आने वाले समय में इसमें और कमी होने की आशंका जताई जा रही है। स्टैटिस्टिक्स कोरिया के अनुसार साल 2024 में 5.175 करोड़ से कम होकर 3.622 करोड़ रह जाने की उम्मीद है। जापान भी जनसंख्या संकट का सामना कर रहा है। यहां की जन्म दर साल 2022 में लगातार सातवें साल घटी थी। बता दं कि 2022 में जापान की जन्म दर हर 1000 लोगों पर 6.3 थी।

क्या पूरी दुनिया की जनसंख्या भी हो रही है कम?

जब इतने बड़े देशों की आबादी कम हो रही है तो सवाल उठता है कि क्या दुनिया की जनसंख्या भी घट रही है? इसका जवाब है नहीं। संयुक्त राष्ट्र के अनुमान के अनुसार साल 2030 में दुनिया की आबादी बढ़कर करीब 850 करोड़ हो जाएगी। साल 2050 में यह आंकड़ा 970 करोड़ और साल 2100 में 1090 करोड़ रहने का अनुमान है। साल 2050 तक नाइजीरिया दुनिया का तीसरी सबसे ज्यादा आबादी वाला देश बन सकता है।

ये भी पढ़ें: दुनिया की सबसे शक्तिशाली सेना वाले देश

ये भी पढ़ें: ईरान ने 11 जवानों की मौत का लिया बदला

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान पर एयर स्ट्राइक, ईरान को धमकी

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो