whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

कौन हैं गणेश्वर शास्त्री? जिनके साथ पीएम मोदी ने किया नामांकन

Ganeshwar Shashtri Dravid in PM Modi Nomination: प्रधानमंत्री मोदी ने आज वाराणसी से अपना नामांकन दाखिल कर दिया है। इस दौरान पीएम मोदी के साथ एक संत नजर आए। तो आइए जानते हैं कि आखिर वो महात्मा कौन हैं? जिन्हें पीएम ने अपने नामांकन में शामिल किया था।
01:05 PM May 14, 2024 IST | Sakshi Pandey
कौन हैं गणेश्वर शास्त्री  जिनके साथ पीएम मोदी ने किया नामांकन
Ganeshwar Shashtri in PM Modi Nomination

Ganeshwar Shashtri Dravid: लोकसभा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने आज वाराणसी से नामांकन कर दिया। 2014 और 2019 के बाद पीएम मोदी तीसरी बार वाराणसी से चुनाव लड़ने वाले हैं। वैसे तो नामांकन के दौरान भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कई दिग्गज नेता पीएम मोदी के साथ डीएम के दफ्तर पहुंचे थे। मगर प्रधानमंत्री मोदी ने एक संत के साथ बैठकर नामांकन किया।

पीएम के नामांकन के दौरान उनकी बगल वाली कुर्सी पर बैठे महात्मा को देखा जा सकता है। नामांकन का वीडियो जैसे ही सोशल मीडिया पर सामने आया, सभी के मन में बस एक सवाल था कि आखिर ये संत कौन हैं? जो पीएम मोदी की ठीक बगल वाली कुर्सी पर बैठे हैं। क्या उनका कद बीजेपी के सभी दिग्गज नेताओं से भी बड़ा है? यहां तक कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी उनके पीछे बैठे नजर आए।

नामांकन का निकाला शुभ मुहूर्त

दरअसल पीएम मोदी के साथ बैठे के संत कोई और नहीं बल्कि ज्योतिषाचार्य गणेश्वर शास्त्री द्रविड़ हैं। इन्होंने ही पीएम मोदी के नामांकन का शुभ मुहूर्त निकाला था। उन्होंने आज यानी 14 मई के दिन को पीएम मोदी के नामांकन के लिए शुभ बताया था। बता दें कि आज गंगा सप्तमी का पर्व है। यही वजह है कि गणेश्वर शास्त्री ने नामांकन के लिए 11ः40 मिनट का शुभ मुहूर्त निकाला था।

कौन हैं गणेश्वर शास्त्री द्रविड़?

गणेश्वर शास्त्री द्रविड़ को देश का सबसे बड़े ज्योतिषी कहा जाता है। वो ग्रह, नक्षत्र और चौघड़ियों के प्रकांड विद्वान हैं। वैसे तो गणेश्वर शास्त्री मूल रूप से दक्षिण भारत के हैं। मगर अब वो वाराणसी के रामघाट इलाके में गंगा नदीं के किनारे रहते हैं। पंडित गणेश्वर शास्त्री के साथ उनके भाई विश्वेर शास्त्री भी वाराणसी में ही बस गए हैं।

राम मंदिर से है कनेक्शन

राम मंदिर के भूमि पूजन से लेकर राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा का भी शुभ मुहूर्त ज्योतिषाचार्य गणेश्वर शास्त्री द्रविड़ ने निकाला था। इसके अलावा काशी विश्वनाथ मंदिर में लोकार्पण का मुहूर्त निकालने वाले विद्वान भी गणेश्वर शास्त्री ही हैं।

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो