whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

MP Lok Sabha Election 2024: मध्य प्रदेश के पूर्व विधायक ने थामा कांग्रेस का दामन, पीसीसी चीफ ने पार्टी में करवाया शामिल

MP former MLA Laxman Shukla join Congress: मध्य प्रदेश में कांग्रेस की तरफ से अच्छी खबर आई है। पूर्व विधायक लक्ष्मण तिवारी सोमवार को कांग्रेस में शामिल हो गए। पीसीसी चीफ जीतू पटवारी ने उन्हें पार्टी में शामिल करवाया है।
08:08 PM Apr 01, 2024 IST | Pooja Mishra
mp lok sabha election 2024  मध्य प्रदेश के पूर्व विधायक ने थामा कांग्रेस का दामन  पीसीसी चीफ ने पार्टी में करवाया शामिल
मध्य प्रदेश के पूर्व विधायक लक्ष्मण तिवारी कांग्रेस में शामिल

MP former MLA Laxman Tiwari join Congress: मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक पार्टियों की तैयारियां और काम दोनों जारी हैं। भाजपा से लेकर कांग्रेस तक सभी पार्टियां चुनाव में अपनी जीत दर्ज करने के लिए कड़ी मेहनत और योजनाएं बना रही हैं। हालांकि इतनी तैयारियों के बाद भी राज्य में कांग्रेस पार्टी को एक के बाद एक झटके लग रहे हैं। पिछले कुछ समय से लगातार कांग्रेस के नेता, विधायक, महापौर और कार्यकर्ता तक पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल हो रहे हैं। वहीं इस आंधी के बीच कांग्रेस के लिए अच्छी खबर आई है।

कांग्रेस में शामिल हुए पूर्व विधायक 

मध्य प्रदेश के पूर्व विधायक लक्ष्मण तिवारी सोमवार को कांग्रेस में शामिल हो गए। लक्ष्मण तिवारी को पीसीसी चीफ जीतू पटवारी ने कांग्रेस में शामिल करवाया है। लोकसभा चुनाव 2024 में ऐसा पहली बार हुआ है कि मध्य प्रदेश का कोई पूर्व विधायक कांग्रेस में शामिल हुआ है। कांग्रेस वह चौथी पार्टी है जिसमें लक्ष्मण तिवारी शामिल हुए हैं। इससे पहले वह भारतीय जनशक्ति पार्टी, भाजपा, सपा में रह चुके हैं। कांग्रेस पार्टी में शामिल होने से पहले लक्ष्मण तिवारी ने रविवार को पीसीसी चीफ जीतू पटवारी से मुलाकात की थी।

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश की इकलौती सीट पर सपा ने बदला प्रत्याशी, दिलचस्प हुआ मुकाबला

2008 में चुने गए थे विधायक 

बता दें कि लक्ष्मण तिवारी ने साल 2008 में उमा भारती की भारतीय जनशक्ती पार्टी से विधायक चुने गए थे। इसके बाद साल 2013 के विधानसभा से पहले उमा भारती ने भारतीय जनशक्ती पार्टी को भाजपा में विलय कर लिया। इसके बाद 2013 में लक्ष्मण तिवारी ने भाजपा की टिकट पर रीवा की मऊगंज सीट से चुनाव लड़ा, लेकिन यहां वह कांग्रेस के उम्मीदवार सुखेन्द्र सिंह बन्ना से हार गए।

भाजपा से हो गए थे बागी 

इसके बाद साल 2018 के विधानसभा चुनाव में पार्टी ने लक्ष्मण तिवारी को टिकट नहीं दिया। इसके बाद वह भाजपा से बागी हो गए और उसी साल मऊगंज सीट से निर्दलीय चुनाव लड़ा। इस चुनाव में 10 हजार के करीब वोट मिले। साल 2023 के विधानसभा में लक्ष्मण तिवारी समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए। समाजवादी पार्टी ने उन्हें सिरमौर से अपना प्रत्याशी बनाया। इस चुनाव में उन्हें मात्र 2 हजार वोट मिले।

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो