whatsapp
For the best experience, open
https://mhindi.news24online.com
on your mobile browser.

'Mukhtar Ansari अमर रहे', जनाजे में लगे नारे; सुनकर भड़की पुलिस की चेतावनी- वीडियो बनवाई, कार्रवाई करेंगे

Mukhtar Ansari Funeral UP Police Action: मुख्तार अंसारी के जनाजे में खूब नारे लगे और नारेबाजी करने वालों के खिलाफ पुलिस ने कानूनी कार्रवाई करने की घोषणा की है। पुलिस ने धारा 144 का उल्लंघन करने का आरोपी भी डॉन के समर्थकों पर लगाया है। वीडियो से नारेबाजी करने वालों की शिनाख्त की जाएगी।
01:00 PM Mar 30, 2024 IST | Khushbu Goyal
 mukhtar ansari अमर रहे   जनाजे में लगे नारे  सुनकर भड़की पुलिस की चेतावनी  वीडियो बनवाई  कार्रवाई करेंगे
मुख्तार अंसारी के जनाजे में हजारों लोग और डॉन के समर्थक जुटे।

Mukhtar Ansari Funeral UP Police Action Update: डॉन मुख्तार अंसारी को आज उसके पैतृक गांव में सुपुर्द-ए-खाक कर दिया गया। मुहम्मदाबाद युसुफपुर गांव में डॉन के घर फाटक में दफनाने की रस्में पूरी की गईं। अतिम विदाई देने से पहले नमाज पढ़ी गई। इसके बाद डॉन की शवयात्रा निकली, जो भारी हुजूम के बीच घर से आधा किलोमीटर दूर काली बाग स्थित कब्रिस्तान में पहुंची।

कब्रिस्तान में रीति रिवाजों के साथ मुख्तार अंसानी को दफना दिया गया। इस दौरान कब्रिस्तान में सिर्फ परिवार के सदस्यों को जाने दिया गया। कब्रिस्तान के बाहर डॉन के समर्थकों का सैलाब उमड़ा, जो लगातार नारेबाजी करते रहे। गाजीपुर पुलिस ने नारेबाजी करने वाले लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की घोषणा की है। वीडियो से शिनाख्त करके नारेबाजी करने वालों पर मामला दर्ज किया जाएगा।

जनाजे को छूने के लिए लोगों में मची भगदड़

गाजीपुर के SP ओमवीर सिंह और DM आर्यका अखौरी ने मीडिया के सामने बयान दिया कि इलाके में धारा 144 लागू की गई थी, बावजूद इसके मुख्तार अंसारी के हजारों समर्थक जुटे। धारा 144 के नियम का उल्लंघन हुआ। भीड़ का कंट्रोल करने के लिए पुलिस जवानों को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। लोगों में मुख्तार अंसारी के जनाजे को छूने की होड़ लगी थी।

मना करने के बावजूद लोगों ने खूब नारेबाजी की। वीडियोग्राफी करवाई गई है और इसमें जो लोग नारे लगाते दिखेंगे, उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। मुख्तार अंसारी के परिजनों ने भी लोगों से अपील की थी कि वे शांति बनाए रखें। पुलिस को उनका काम करने में सहयोग करें, लेकिन लोग नहीं माने। अब पुलिस अपना काम करेगी, नारेबाजी करने वालों को किसी कीमत पर नहीं बख्शेंगे।

बांदा से गाजीपुर देररात पहुंचा पार्थिव शरीर

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, 19 साल से जेल में कैद मुख्तार अंसारी की गुरुवार को दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई थी। हालांकि उसके परिवार ने स्लो पॉइजन देकर मारने का आरोप लगाया था, लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत होने की वजह हार्ट अटैक बताई गई। पोस्टमार्टम के बाद मुख्तार अंसारी का पार्थिव शरीर लेकर बेटा उमर अंसारी बांदा से गाजीपुर पहुंचा। यहां मुख्तार अंसारी के घर फाटक के बाहर भारी पुलिस बल तैनात रहा। इसके बाद सुबह नमाज अदा करने के बाद मुख्तार अंसारी का जनाजा निकला, जिसमें हजारों की संख्या में लोग उमड़े, वहीं भारी पुलिस बल भी तैनात रहा।

Tags :
tlbr_img1 दुनिया tlbr_img2 ट्रेंडिंग tlbr_img3 मनोरंजन tlbr_img4 वीडियो